बिजनौर : कांवड़ यात्रा के बीच उत्तर प्रदेश में माहौल ख़राब करने की साजिश, भगवा साफा पहन 2 भाइयों ने तीन मज़ार में की तोड़फोड़,

Kanwar Yatra 2022: उत्तर प्रदेश के बिजनौर में रविवार शाम शहर के तीन मकबरों में तोड़फोड़ कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश की गई। कुछ चादरें जलाई गईं।
 | 
Sherkot
कांवड़ यात्रा के दौरान उत्तर प्रदेश के बिजनौर में गड़बड़ी फैलाने की साजिश सामने आई है। भगवा साफा पहनकर कब्र में तोड़फोड़ करने के आरोप में पुलिस ने दो मुस्लिम युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक दोनों युवक आपस में सगे भाई हैं।Read Also:-मेरठ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हेलीकॉप्टर से कांवड़ियों पर करेंगे फूलों की वर्षा, साथ ही करेंगे कांवड़ यात्रा का हवाई सर्वेक्षण, हेलीकॉप्टर हुआ रवाना

 

इनके नाम मोहम्मद कामिल और मोहम्मद आदिल बताए जा रहे हैं। यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने दो युवकों की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि दोनों से पूछताछ की जा रही है। उत्तर प्रदेश एटीएस भी मामले की जांच कर रही है।


 

गौरतलब है कि इन दिनों कांवड़ यात्रा चल रही है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अलावा अन्य जिलों में भी बड़े पैमाने पर कांवड़िये आ रहे हैं। इस बीच बिजनौर में इन दोनों युवकों ने माहौल बिगाड़ने की कोशिश की। बताया जा रहा है कि मज़ार में तोड़फोड़ के दौरान कुछ ग्रामीणों ने युवकों को पकड़कर ऐसा करने का कारण पूछा तो दोनों ने कहा कि अब और भी मज़ारों के साथ भी ऐसा ही करेंगे। दोनों की गिरफ्तारी के बाद कांवड़ यात्रा को लेकर पुलिस और सतर्क हो गई है। मिली जानकारी के अनुसार मामले की जांच के लिए पुलिस के आला अधिकारी बिजनौर के शेरकोट कस्बे में पहुंच रहे हैं। जल्द ही लखनऊ से एटीएस की टीम भी बिजनौर पहुंच सकती है।

 Sherkot

शेरकोट और में हुई घटना
बिजनौर के शेरकोट थाना क्षेत्र में तीन अलग-अलग जगहों पर लगभग कुछ ही समय में धर्मस्थलों में तोड़फोड़ की गई। बताया जा रहा है कि घटना को अंजाम दे रहे एक युवक को ग्रामीणों ने रंगेहाथ पकड़ लिया और बाद में मौके पर पहुंची पुलिस उसे थाने ले गई। एएसपी ईस्ट के मुताबिक दोनों युवक आपस में भाई हैं।  आरोपी शेरकोट के मोहल्ला कायस्थान के रहने वाले हैं।

 

दरअसल यह मामला रविवार शाम करीब साढ़े पांच बजे शेरकोट में हुआ। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार थाना क्षेत्र के ग्राम घोसियावाला स्थित एक धार्मिक आस्था केंद्र में दो युवकों को कुछ ग्रामीणों ने तोड़फोड़ करते देखा। ग्रामीण मौके पर पहुंचे तो एक युवक बाइक पर सवार होकर भाग गया, जबकि ग्रामीणों ने एक को रंगेहाथ पकड़ लिया। 

 

कुछ आस्था केंद्रों में जहां यह तोड़फोड़ की गई है, वहां पहले भी उर्स और कव्वाली आदि का कार्यक्रम हो चुका है। हालांकि, समय के साथ इस तरह की घटनाओं में कमी आई है।

 

हिंदू-मुस्लिम मिलकर एक साथ देखभाल करते हैं 
गांव घोसियावाला में आस्था केंद्र के लिए हिंदू और मुस्लिम दोनों में बड़ी श्रद्धा है। घोसियावाला में आस्था केंद्र की सुरक्षा और देखभाल हिंदुओं और मुसलमानों द्वारा संयुक्त रूप से की जाती है।  garauv

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।