50 से ज्यादा गोल्डमैन पर्यावरण पुरस्कार विजेताओं ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद से आगामी सत्र के दौरान वियतनाम को नए सदस्य के रूप में अस्वीकार करने का आग्रह किया

 | 
Business Wire India
संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) इस हफ्ते अपने 51वें सत्र (51st session) की शुरुआत कर रहा है। इस मौके पर 42 देशों के 52 गोल्डमैन पर्यावरण पुरस्कार विजेताओं ने आज यूएनएचआरसी को एक पत्र भेजकर (a letter) अपील की है कि वियतनाम को नए सदस्य के रूप शामिल किए जाने के खिलाफ मतदान करें। यह इस बात के मद्देनजर है कि देश के साथ सबसे अधिक जलवायु और पर्यावरण अधिवक्ता के रूप में व्यवहार किया जाता है।

गुजरे दो वर्षों में, पर्यावरण के लिए काम करने वाले चार लोगों को वियतनाम में टैक्स से संबद्ध आरोपों में कैद किया गया है। इनमें 2018 की गोल्डमैन पुरस्कार विजेता और देश के अग्रणी जलवायु विशेषज्ञों में से एक, गुई थी खान (Nguy Thi Khanh) हैं। इन गिरफ्तारियों ने यह संकेत दे दिया है कि वियतनाम के अस्पष्ट कर कानूनों का इस्तेमाल गैर-लाभकारी संगठनों के नेताओं को चुप कराने के लिए किया जा रहा है। ये वो लोग हैं जो वियतनाम के कोयले से स्वच्छ ऊर्जा की ओर पारगमन पर काम कर रहे हैं। सुश्री खान के अलावा, पर्यावरण अधिवक्ता डांग दिन्ह बाख (Dang Dinh Bach) पांच साल (five years) की सजा काट रहे हैं। इससे पहले, ये लोग कई वर्षों तक हाशिए पर कर दिये गए समुदायों को हानिकारक कीटनाशकों तथा कोयला के बिजली संयंत्रों से होने वाले प्रदूषण से बचाने के लिए काम कर चुके हैं।

इस बीच, वियतनाम को पिछले नवंबर में संयुक्त राष्ट्र जलवायु सम्मेलन (सीओपी 26) में की गई 2050 तक शुद्ध शून्य उत्सर्जन (net zero emissions by 2050) की अपनी प्रतिबद्धता के लिए वैश्विक प्रशंसा मिल रही है। सवाल उठाए जा रहे हैं कि वियतनामी सरकार देश के शीर्ष जलवायु और पर्यावरण विशेषज्ञों को क्यों निशाना बना रही है जबकि इसके साथ ही वह स्वच्छ ऊर्जा पारगमन की दिशा में खुद को अंतरराष्ट्रीय प्रयासों के साथ संरेखित करने की मांग कर रही है। पूरे वियतनाम में गैर सरकारी संगठनों के बीच चिंता फैल रही है कि सामाजिक और पर्यावरणीय मुद्दों पर उनके काम के लिए आपराधिक मुकदमा चलाया जा सकता है और जेल हो सकती है।

आज के पत्र पर दस्तखत करने वाले जोर देकर कहते हैं कि वियतनाम मानवाधिकार के उच्च मानकों को बनाए रखने के यूएनएचआरसी के मानदंडों (high human rights standards) को पूरा नहीं करता है।

आज का पत्र वियतनाम से अपील करता है कि वह अपने टैक्स कोड को संशोधित करके नागरिक समाज के नेताओं के उत्पीड़न को समाप्त करे। अभी तक जिसका उपयोग दमन के एक साधन के रूप में किया गया है और "इन अन्यायपूर्ण कानूनों के तहत कैद सुश्री खान, श्री बाख और अन्य पर्यावरण रक्षकों को रिहा किया जाए।" यह शांतिपूर्ण सभा और संगठन की स्वतंत्रता के अधिकार, राय और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार के प्रचार और संरक्षण पर संयुक्त राष्ट्र के विशेष प्रतिवेदकों का भी हवाला देता है। इसमें दोनों ने पाया कि वियतनाम के कर कानून मानवाधिकार के नियमों से तालमेल में नहीं हैं (Vietnam’s tax laws are incompatible with human rights norms) और चेतावनी दी है कि लंबी जेल की सजा की धमकी और कर उल्लंघन के बारे में अस्पष्टता आत्म-सेंसरशिप को प्रोत्साहित करती है और सार्वजनिक हित के मामलों में महत्वपूर्ण चर्चा को रोकती है।

पिछले 10 वर्षों में, सुश्री खान ने वियतनाम की कोयला विस्तार योजनाओं को संबोधित करने, वायु गुणवत्ता और सार्वजनिक स्वास्थ्य पर कोयला संयंत्र उत्सर्जन के प्रभाव के बारे में जन जागरूकता बढ़ाने और वियतनाम में अक्षय ऊर्जा स्रोतों के उपयोग को आगे बढ़ाने के लिए अथक प्रयास किया है। उसकी सजा की अंतरराष्ट्रीय निंदा हुई है। इनमें संयुक्त राज्य अमेरिका (United States), कनाडा (Canada), जर्मनी, यूनाइटेड किंगडम (United Kingdom) और यूरोपीय संघ की सरकारों के साथ-साथ दुनिया भर के गैर सरकारी संगठन और नागरिक समाज संगठन शामिल हैं। इनमें से सभी ने इनकी रिहाई की मांग की है।

इस हफ्ते की शुरुआत में, संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त नादा अल-नशिफ ने यूएनएचआरसी को एक बयान (statement) दिया है जिसमें वियतनाम के "नागरिक स्थान और मौलिक स्वतंत्रता पर बढ़ते प्रतिबंधों" को संबोधित करते हुए सरकार से स्वच्छ और स्वस्थ वातावरण को बढ़ावा देने के लिए काम करने के लिए "मनमाने ढंग से हिरासत में लिए गए या कैद किए गए लोगों को रिहा करने" का आग्रह किया गया है।

आज का पत्र इसी भावना को प्रतिध्वनित करता है। इसमें कहा गया है, "सुश्री खान, मिस्टर बाख और वर्तमान में वियतनाम में कैद अन्य पर्यावरण रक्षकों ने एक स्वच्छ, स्वस्थ और स्थायी पर्यावरण वातावरण बनाने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया है, जिसे पिछले साल संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा एक सार्वभौमिक मानव अधिकार घोषित (declared a universal human right by the UN General Assembly last year) किया गया था।" "इन विशेषज्ञों के सलाखों के पीछे होने और भविष्य में अधिक गिरफ्तारी की संभावना के बारे में चिंताओं के साथ, वियतनाम इस सार्वभौमिक अधिकार को कैसे बनाए रखेगा?"

"इसके अलावा, इन कैदियों को हिरासत में रखा जा रहा है, जहां वकीलों या परिवार की पहुंच बहुत कम है या नहीं है, जो न केवल कर चोरी के आरोप वाले व्यक्तियों के लिए अत्यधिक है, बल्कि अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत अवैध भी है," पत्र में आगे कहा गया है।

"दुर्भाग्य से, कई गोल्डमैन पुरस्कार विजेताओं को अतीत में दुनिया भर की सरकारों द्वारा गिरफ्तार और जेल में डाल दिया गया है। हम सभी ने अपने ग्रह की रक्षा और परिवर्तन को उत्प्रेरित करने के अपने प्रयासों में कठिन लड़ाई का सामना किया है। वियतनाम में जो हो रहा है उसका यह उदाहरण मात्र है। हम आपसे न केवल वियतनाम, बल्कि सभी देशों को यह प्रदर्शित करने के अवसर के रूप में उपयोग करने का आग्रह करते हैं कि मानवाधिकार परिषद में एक सम्मानित सदस्यता प्राप्त करने के मानदंडों को गंभीरता से लिया जाता है, और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय देख रहा है।"

स्रोत रूपांतर Businesswire.com पर देखें: https://www.businesswire.com/news/home/20220913006301/en/
 
संपर्क :
v4climateleaders@gmail.com
 
घोषणा (अस्वीकरण): इस घोषणा की मूलस्रोत भाषा का यह आधिकारिक, अधिकृत रूपांतर है। अनुवाद सिर्फ सुविधा के लिए मुहैया कराए जाते हैं और उनका स्रोत भाषा के आलेख से संदर्भ लिया जा सकता है और यह आलेख का एकमात्र रूप है जिसका कानूनी प्रभाव हो सकता है।
50 से ज्यादा गोल्डमैन पर्यावरण पुरस्कार विजेताओं ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद से आगामी सत्र के दौरान वियतनाम को नए सदस्य के रूप में अस्वीकार करने का आग्रह किया

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।