ज़ाएद सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार 2023 के लिए 30 फ़ाइनलिस्ट की घोषणा की गई

स्वास्थ्य, भोजन, ऊर्जा, जल और ग्लोबल हाई स्कूल कैटेगरी के लिए 10 विजेताओं के नाम जनवरी 2023 में होने वाले पुरस्कार ...
 | 
Business Wire India
  • स्वास्थ्य, भोजन, ऊर्जा, जल और ग्लोबल हाई स्कूल कैटेगरी के लिए 10 विजेताओं के नाम जनवरी 2023 में होने वाले पुरस्कार समारोह में घोषित किए जाएँगे।
  • इसके लिए 152 देशों से 4,538 आवेदन प्राप्त हुए हैं और प्रविष्टियों की यह संख्या पिछली साइकिल के मुकाबले 13% ज़्यादा है
 
ज़ाएद सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार पर्यावरण के प्रति अपनी जवाबदेही को उत्कृष्टता से निभाने के लिए यूएई की ओर से अंतरराष्ट्रीय पैमाने पर दिया जाता है। जूरी ने साल 2023 की मौजूदा साइकिल के लिए विजेताओं के चुनाव के लिए मीटिंग आयोजित की। इन विजेताओं के नाम इस जनवरी में होने वाले आबू धाबी सस्टेनेबिलिटी वीक (ADSW) 2023 में पुरस्कार समारोह के दौरान घोषित किए जाएँगे।
 
स्वास्थ्य, भोजन, ऊर्जा, जल और ग्लोबल हाई स्कूल नामक पाँच कैटेगरी में दिए जाने वाले 10 पुरस्कारों के लिए कुल 30 फ़ाइनलिस्ट पक्के हो चुके हैं, जिनके बीच पुरस्कार के लिए मुकाबला होगा। इस साल, इस पुरस्कार के लिए रिकॉर्ड 4,538 आवेदन प्राप्त हुए। यह संख्या पिछली साइकल में मिली प्रविष्टियों के मुकाबले 13% ज़्यादा है। ये आवेदन 152 देशों से भेजे गए थे।
 
पुरस्कार जूरी में भूतपूर्व राष्ट्र प्रमुख, यूएई सरकार के मंत्री और अंतरराष्ट्रीय व्यावसायिक हस्तियों ने अक्टूबर में आबू धाबी में मुलाकात करके पुरस्कार चयन समिति के छाँटे हुए आवेदनों पर गौर किया।
 
फ़ाइनलिस्ट की घोषणा पर टिप्पणी करते हुए, यूएई के उद्योग और उन्नत प्रौद्योगिकी मंत्री और ज़ाएद सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार के महानिदेशक हिज़ एक्सिलेंसी डॉ. सुल्तान अहमद अल जाबेर ने कहा: “स्वर्गीय शेख जायेद बिल सुल्तान अल नाहयान ने यूएई में पर्यावरण और मानवीय विकास के लिए प्रतिबद्ध रहने का जज़्बा फूँका था और ज़ाएद सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार प्रतिबद्धता को साकार करके उनकी इसी विरासत का सम्मान कर रहा है। पिछले 14 सालों में, इस पुरस्कार की वजह से ऐसे व्यावहारिक मगर इको-फ़्रेंडली समाधानों की तैनाती में तेज़ी आई है, जिनसे 370 लाख लोगों की ज़िंदगी पर सकारात्मक असर हुआ है।”
 
उन्होंने आगे कहा, “ज़ाएद सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार ने जलवायु को बचाए रखने के लिए सबसे साथ मिलकर कदम उठाने के यूएई के विज़न को पुख्ता करने में अहम भूमिका निभाई है। यह पुरस्कार दुनिया भर में इको-फ़्रेंडली इनोवेशन की नींव मज़बूत करने और पूरी दुनिया में विकास के क्षेत्र में योगदान कर रही इकाइयों और स्कूलों को सशक्त बनाने के यूएई के ट्रैक रिकॉर्ड को इसी तरह सबके सामने बड़े रूप में लाता रहेगा।
 
इस साल के कई फ़ाइनलिस्ट ने इको-फ़्रेंडली समाधान पेश किए हैं, जो पर्यावरण से जुड़ी समस्याओं से निपटने के साथ-साथ स्थानीय समुदाय के सदस्यों के अंदर छिपी उद्यमिता की क्षमता को उभारकर उन्हें सशक्त बनाते हैं। इनमें से कई समाधान अपनी प्रभावशीलता को बढ़ाने के लिए अगली पीढ़ी की टेक्नोलॉजी, जैसे कि आर्टिफ़िशियल इंटेलिजेंस (AI) और इंटरनेट ऑफ़ थिंग्स (IoT) का इस्तेमाल करते हैं।
 
जूरी के चेयरमैन और आइसलैंड के भूतपूर्व राष्ट्रपति, हिज़ एक्सिलेंसी ओलाफ़ुर रागनार ग्रिमसन ने अपनी बात रखते हुए कहा: “इस साल के आवेदनों में युवा वर्ग की कल्पना से उपजे प्रेरक प्रोजेक्ट्स के साथ-साथ तरह-तरह के इनोवेशन से भरी-पूरी श्रृंखला को देखकर पता चलता है कि यह पुरस्कार दुनिया भर के इको-फ़्रेंडली आविष्कारकों को सामने लाने में कितना कारगर है, क्योंकि यह उन्हें कायापलट कर देने वाला बदलाव लाने के लिए एक अनूठा मंच देता है।”
 
स्वास्थ्य कैटेगरी के फ़ाइनलिस्ट्स ने दूर-दराज़ के क्षेत्रों में रहने वाले समुदायों को विशेष चिकित्सा देखभाल की सुविधा देने पर फ़ोकस किया है।
 
‘स्वास्थ्य’ कैटेगरी के फ़ाइनलिस्ट हैं
 
  • Associação Expedicionários da Saúde (ब्राज़ील) एक ऐसा NPO है, जो अपने मोबाइल हॉस्पिटल कॉम्प्लेक्स के ज़रिए अमेज़ॉन क्षेत्र में भौगोलिक रूप से अलग-थलग रहने वाले स्वदेशी समुदायों को विशेष मेडिकल और सर्जिकल केयर प्रदान करता है।
  • Helmholtz Centre for Infection Research (जर्मनी) एक ऐसा NPO है, जिसने सर्विलेंस आउटब्रेक रिस्पॉन्स मैनेजमेंट और एनालिसिस सिस्टम विकसित किया है, जो बीमारियों के फैलने के शुरुआती चरणों में ही उसका पता लगाने और महामारी नियंत्रण प्रबंधन के लिए एक ओपन-सोर्स डिजिटल प्लैटफ़ॉर्म है।
  • Ory Laboratory (जापान) एक SME है, जिसने OriHime नाम का एक रोबॉट तैयार किया है। इसे दिव्यांग लोगों के सामाजिक अलगाव को कम करने और उन्हें काम करने का मौका देने और समाज के साथ जुड़ने के मकसद से तैयार किया गया है।

भोजन की कैटेगरी के फ़ाइनलिस्ट्स ने अभिनव व्यावसायिक मॉडल या उन्नत टेक्नोलॉजी के ज़रिए छोटे किसानों की कृषि उत्पादकता को बढ़ाकर उन्हें उद्यमी बनाने पर फ़ोकस किया है।
 
‘भोजन’ कैटेगरी के फ़ाइनलिस्ट्स हैं:
 
  • Nuru International (USA) एक NPO है, जो अफ़्रीका के किसानों को सिर्फ़ जीवन-यापन के लिए खेती-किसानी करने के बजाय किसानों के स्वामित्व वाले और किसानों की अगुवाई में चलने वाले सहकारी कृषि-व्यवसाय का तरीका अपनाने में उनकी मदद करता है। यह किसानों की क्षमता को विकसित करने वाली गतिविधियों को सरकार के मौजूदा प्रयासों के मुताबिक ढालकर और उसे स्थानीय संदर्भ के अनुकूल बनाकर उनकी सहायता करता है।
  • Sanergy (केन्या) एक SME है, जो अफ़्रीका के उप-सहारा क्षेत्र में कृषि कार्य की ऊँची लागतों, आपूर्ति की अल्प उपलब्धता और मिट्टी की गिरती उर्वरता से किसानों को होने वाली समस्याओं की रोकथाम करने में मदद करता है। इसके लिए यह जैविक खाद तैयार करता है और विभिन्न प्रकार के अपशिष्ट का इस्तेमाल करके कीट प्रोटीन तैयार करता है।
  • Ynsect (फ़्रांस) एक SME है, जो नए तरह की वर्टिकल फ़ार्मिंग और एकीकृत बायोरिफ़ाइनिंग सेटअप जैसी सुविधाओं से युक्त, यूरोप की अपनी तरह की पहली कीट फ़ैक्टरी के साथ मिलकर कीट प्रोटीन और कुदरती कीट खाद का उत्पादन करता है।

ऊर्जा कैटेगरी के फ़ाइनलिस्ट्स ने इको-फ़्रेंडली साधनों से ऊर्जा पैदा करके उसे कमज़ोर समुदायों तक पहुँचाने पर फ़ोकस करने के साथ-साथ नए व्यावसायिक मॉडल भी पेश किए हैं, जिसमें हर जेंडर से ताल्लुक रखने वाले लोग इको-फ़्रेंडली ऊर्जा के क्षेत्र में काम कर सकेंगे, जिसके चलते सामाजिक व आर्थिक अवसर पैदा होंगे। 
 
‘ऊर्जा’ क्षेत्र के फ़ाइनलिस्ट्स हैं:
 
  • Green Girls Organisation (कैमरून) एक NPO है, जो पेटेंटेड एल्गोरिद्म का इस्तेमाल करके उन क्षेत्रों की पहचान करता है, जहाँ महिलाएँ और लड़कियाँ ऊर्जा का लाभ उठा सकें और फिर पहचाने गए क्षेत्रों में एक विकेंद्रीकृत सौर PV और बायोगैस सिस्टम स्थापित करके उन्हें बिजली और इको-फ़्रेंडली कुकिंग की सुविधा देता है।
  • NeuroTech (जॉर्डन) एक SME है, जिसने शरणार्थी शिविरों में ऊर्जा की भरोसेमंद सुविधा देने के लिए ब्लॉकचेन आधारित ट्रांज़ैक्शन सिस्टम वाले AI-आधारित एल्गोरिद्म तैयार किए हैं।
  • Solarkiosk Solutions GmbH (जर्मनी) एक SME है, जिसने स्थानीय किसानों और सूक्ष्म-व्यवसायों को सार्थक इस्तेमाल के लिए अक्षय ऊर्जा प्रदान करने के इरादे से “E-HUBB” और कनेक्टेड सोलर मार्केट सेंटर “THE PULSE” विकसित किया है।
 
जल कैटेगरी के फ़ाइनलिस्ट्स ने दूर-दराज़ में बसे समुदायों को सुरक्षित पेय जल और स्वच्छता सुविधाएँ प्रदान करने के लिए किफ़ायती समाधान तैयार करने पर फ़ोकस किया है।
 
‘जल’ कैटेगरी के फ़ाइनलिस्ट्स हैं:
 
  • HELIOZ – WADI (ऑस्ट्रेलिया) एक SME है, जिसने सौर ऊर्जा से चलने वाला ऐसा डिवाइस तैयार किया है, जो लोगों को बताता है कि पानी कब पीने के लिए सुरक्षित है – यह तरीका CO2 उत्सर्जन और इनडोर वायु प्रदूषण को कम करता है।
  • LEDARS (बांग्लादेश) एक NPO है, जिसने आपदा से प्रभावित होने वाले क्षेत्रों में पानी की कमी की समस्या को सुलझाने के लिए वॉटर रिसोर्स मैनेजमेंट मॉडल्स को एकीकृत किया है ये ऐसे क्षेत्र हैं, जहाँ पानी नमकीन हो जाने और बाढ़ की वजह से इस्तेमाल करने लायक नहीं रह जाता।
  • Seisui Industries Inc. (जापान) एक SME है, जिसने एक मूवेबल वेस्टवॉटर ट्रीटमेंट प्लांट विकसित किया है, जिसे ज़रूरतों के हिसाब से कस्टमाइज़ किया जा सकता है और कभी भी, कहीं भी ले जाकर इस्तेमाल में लाया जा सकता है।
 
ग्लोबल हाई स्कूल कैटेगरी के फ़ाइनलिस्ट्स ने प्रोजेक्ट-आधारित और छात्रों की अगुवाई में तैयार किए गए इको-फ़्रेंडली समाधान पेश किए हैं और इन फ़ाइनलिस्ट्स को 6 क्षेत्रों में बाँटा गया है। क्षेत्रीय फ़ाइनलिस्ट्स में शामिल हैं:

अमेरिका: Centro Etnoeducativo Integral Rural Nuestra Señora del Carmen (कोलम्बिया), Escuela Técnica Nro.3 Maria Sanchez de Thompson (अर्जेंटीना) और Fundacion Bios Terrae - ICAM Ubate (कोलम्बिया)।
 
यूरोप और मध्य एशिया: ES Kreativno pero (सर्बिया), Northfleet Technology College (युनाइटेड किंगडम) और Romain-Rolland Gymnasium (जर्मनी)।
 
मध्य पूर्व और उत्तर अफ़्रीका: Gifted Students School (इराक), JSS Private School (यूएई) और Obour STEM School (मिस्र)।
 
उप-सहारा अफ़्रीका: Cheshire High School (नाइजीरिया), Mary Mount Secondary School (केन्या) और UWC East Africa - Arusha Campus (तंज़ानिया)।
 
दक्षिण एशिया: Dhaka Residential Model College (बांग्लादेश), Kopila Valley School (नेपाल) और Obhizatrik School (बांग्लादेश).
 
पूर्व एशिया और पैसिफ़िक: Bohol Wisdom School (फ़िलिपींस), Kamil Muslim College (फ़िजी) और Sangam Sadhu Kuppuswamy Memorial College (फ़िजी)।
 
स्वास्थ्य, भोजन, ऊर्जा और जल कैटेगरी में, हर विजेता को US$600,000 मिलेंगे। ग्लोबल हाई स्कूल कैटेगरी में दुनिया के छह क्षेत्रों से छह विजेता चुने जाते हैं और हर विजेता को US$100,000 दिए जाते हैं। साल 2008 में अपने लॉन्च के वक्त से ही, US$3 लाख की इनामी राशि वाले इस पुरस्कार ने 150 देशों के 370 लाख लोगों की ज़िंदगी में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से सकारात्मक बदलाव लाया है। आज यह पुरस्कार दुनिया की सबसे अहम समस्याओं का समाधान तलाशने की दिशा में तेज़ी ला रहा है, क्योंकि यह दुनिया भर में मौजूद अलग-अलग तरह के समुदायों पर लंबे समय तक सकारात्मक छाप छोड़ने के जज़्बे को बढ़ावा देता है।
 
बॉयलरप्लेट
 
ज़ाएद सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार दुनिया भर में सस्टेनेबिलिटी के क्षेत्र में कुछ नया कर दिखाने वाले लोगों को यूएई की ओर से दिया जाने वाला अपनी तरह का इकलौता पुरस्कार है और यह यूएई के संस्थापक, शेख ज़ाएद बिन सुल्तान अल नाहयान की विरासत को दिया जाने वाला सच्चा सम्मान है। साल 2008 में शुरू हुए ज़ाएद सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार का मकसद छोटे और मध्यम-आकार के उद्यमों, निर्लाभ संगठनों और हाई स्कूलों द्वारा स्वास्थ्य, भोजन, ऊर्जा, जल और ग्लोबल हाई स्कूल कैटेगरी में दिए जा रहे असरदार, इनोवेटिव और प्रेरक समाधानों की अहमियत को पहचानकर और उन्हें पुरस्कृत करके इको-फ़्रेंडली विकास और मानवतावादी कदमों को बढ़ावा देना है।

अपने 96 विजेताओं के ज़रिए, इस पुरस्कार ने दुनिया भर के 370 लाख लोगों पर सकारात्मक असर डाला है।

संपर्क :
रीम दियाब
Reem.Diab@bcw-global.com
 
घोषणा (अस्वीकरण): इस घोषणा की मूलस्रोत भाषा का यह आधिकारिक, अधिकृत रूपांतर है। अनुवाद सिर्फ सुविधा के लिए मुहैया कराए जाते हैं और उनका स्रोत भाषा के आलेख से संदर्भ लिया जा सकता है और यह आलेख का एकमात्र रूप है जिसका कानूनी प्रभाव हो सकता है। ज़ाएद सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार 2023 के लिए 30 फ़ाइनलिस्ट की घोषणा की गई

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।