किरिन होल्डिंग्स और काओ ने आँत की चर्बी और प्रतिरक्षा विज्ञान के बीच सम्बन्ध पर आरम्भ किया संयुक्त अनुसंधान

 | 
Business Wire India
किरिन होल्डिंग्स कंपनी लिमिटेड (किरिन होल्डिंग्स) और काओ कॉरपोरेशन (काओ) इस महीने से “वाकायामा स्वास्थ्य संवर्धन अध्ययन” (वाकायामा हेल्थ प्रमोशन स्टडी) कोहार्ट स्टडी*1 में भाग लेंगे। यह अध्ययन वाकायामा मेडिकल यूनिवर्सिटी के नेतृत्व में किया जा रहा है और इसे एक लाभ-निरपेक्ष संगठन, हेल्थ प्रमोशन रिसर्च सेंटर (एचआरपीसी) द्वारा संकलित किया गया है। किरिन होल्डिंग्स और काओ मिलकर आँत की चर्बी (विसरल फैट) और प्लाज्मा साईंटॉइड डेन्ड्रिटिक सेल्स*2 (पीडीसी), जो प्रतिरक्षण तंत्र का मुख्य कर्ता है, के बीच सम्बन्ध एवं अन्य चीजों का संयुक्त रूप से अनुसंधान करेंगे।
 
*1 यह रोग के घटकों और रोग के आरम्भ के बीच सम्बन्ध की जाँच के लिए प्रयोग की जाने वाली अवलोकन अनुसंधान विधियों में से एक है। किसी निर्दिष्ट रोग घटक में सम्मिलित लोगों के समूह और किसी निर्दिष्ट रोग घटक में असम्मिलित लोगों के समूह का निर्माण किया जाता है, और घटकों व रोग की शुरुआत के बीच संबंध को प्रत्येक समूह के लक्षित रोग की घटना की गणना करते हुए जाँचा जा सकता है।

*2 ये प्रतिरक्षण कोशिकाएँ (इम्यून सेल्स) हैं, जो शरीर में बैक्टीरिया या वायरस के प्रवेश करने पर प्रमुख लीडर के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। पीडीसी (pDC) सक्रियन वायरल संक्रमणों से रक्षा के लिए एनके कोशिकाओं, टी कोशिकाओं और बी कोशिकाओं जैसी विभिन्न प्रतिरक्षण कोशिकाओं को सक्रिय करता है।

अनुसंधान का खाका
 
  1. अनुसंधान की थीम
वाकायामा प्रशासनिक प्रांत में स्थानीय निवासियों के बीच जीवनशैली-संबंधी रोगों के विकास से सम्बंधित आनुवंशिक और पर्यावरणीय घटकों पर अनुसंधान।
 
  1. अनुसंधान की योजना
किरिन सेंट्रल रिसर्च इंस्टिट्यूट, किरिन होल्डिंग्स कंपनी लिमिटेड आरऐंडडी-स्वास्थ्य एवं तंदुरुस्ती उत्पाद अनुसंधान, आरऐंडडी-जैविक विज्ञान अनुसंधान, काओ कॉरपोरेशन।
 
  1. लक्ष्य
वाकायामा प्रशासनिक प्रांत में रहने वाले 300 पुरुष और महिला वयस्क (नियोजित)।


पृष्ठभूमि

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) द्वारा मोटापा को “असामान्य अथवा अत्यधिक चर्बी का संचय जो स्वास्थ्य को कमजोर कर सकता है” के रूप में परिभाषित किया है, जिसके परिणति दीर्घकालीन रोगों के बढ़े हुए जोखिम के रूप में हो सकती है। स्वास्थ्य पर मोटापा के प्रभावों पर दुनिया भर में अध्ययन किये जा रहे हैं; और हाल के वर्षों में मोटापा और प्रतिरक्षण शक्ति के बीच सम्बन्ध पर लोगों का ध्यान गया है, क्योंकि मोटापा का सम्बन्ध ज्यादा गंभीर वायरल संक्रमणों के साथ रहा है।*3

उद्देश्य

इस अनुसंधान का लक्ष्य आँत की चर्बी और पीडीसी क्रिया के बीच सम्बन्ध पर प्रकाश डालना है। इस उद्देश्य को प्रतिरक्षा विज्ञान के क्षेत्र में किरिन होल्डिंग्स की 35 वर्षों से अधिक की अनुसंधान क्षमताओं और आँतों में चर्बी के जमाव - जो जीवनशैली-संबंधी रोगों का मूल कारक है - का सुधार करने में काओ की अनुसंधान क्षमताओं के संयोजन के द्वारा पूरा किया जाएगा। यह अनुसंधान “वाकायामा स्वास्थ्य संवर्धन अध्ययन” के एक अतिरिक्त अध्ययन के रूप में संचालित किया जाएगा, जो वर्ष 2011 से वाकायामा प्रशासनिक प्रांत के निवासियों पर किया गया है।

इस महीने में, वाकायामा प्रशासनिक प्रांत में 40-55 वर्ष उम्र के निवासियों के लिए एक विशिष्ट स्वास्थ्य जाँच की जाएगी। काओ जीवनशैली से सम्बंधित आदतों और आँत की चर्बी (विसरल फैट) की मात्रा पर डेटा संकलित करेगी, जबकि किरिन होल्डिंग्स रक्त में पीडीसी सहित डेन्ड्रिटिक कोशिकाओं की क्रियाओं पर डेटा संकलित करेगी। इन डेटा को परस्पर साझा किया जाएगा, और आँत की चर्बी तथा पीडीसी क्रिया के बीच सम्बन्ध का संयुक्त रूप से अध्ययन और विश्लेषण किया जाएगा।

*3 इंट जे एपिडेमोल. 2019;48(6):1783-1794. https://doi.org/10.1093/ije/dyz129
ओबेस रिव्यु 2020;21(11):e13128. https://doi.org/10.1111/obr.13128
 
वाकायामा स्वास्थ्य संवर्धन अध्ययन क्या है?

यह एक कोहार्ट अध्ययन है, जो 2011 से वाकायामा मेडिकल यूनिवर्सिटी के नेतृत्व में क्या जा रहा है और वर्तमान में एचपीआरसी के सहयोग से किया जा रहा है। इसका लक्ष्य वाकायामा प्रशासनिक प्रांत में स्थानीय निवासियों के बीच विभिन्न रोगों के विकास में सम्मिलित आनुवंशिक और पर्यावरणीय घटकों की पहचान करना है।

अभी तक, जीवनशैली और मांसपेशियों पर अनुसंधान किया गया है, और मांसपेशियों में कमी एवं आर्टेरियोस्केलेरोसिस की शुरुआत तथा गिरने की पिछली घटनाओं एवं स्वैच्छिक शारीरिक गतिविधि के परिमाण के बीच सम्बन्ध पर अनेक मौलिक पत्र प्रकाशित किये गए हैं।

एचपीआरसी अध्ययन के माध्यम से आँतों की चर्बी और पीडीसी क्रिया के बीच सम्बन्ध को स्पष्ट क्रेट हुए, किरिन और काओ भविष्य में उपभोक्ताओं के लिए स्वास्थ्य के जोखिम कण करने के लक्ष्य के साथ पहलकदमी बढ़ाएंगे।

किरिन होल्डिंग्स के विषय में

किरिन होल्डिंग्स कंपनी लिमिटेड एक अंतरराष्ट्रीय कंपनी है जो खाद्य एवं पेय (फूड और बेवरीज व्यवसायों), औषधि (फार्मास्युटिकल्स व्यवसायों), तथा स्वास्थ्य विज्ञान (हेल्थ साइंस व्यवसाय) के क्षेत्र में जापान और पूरे विश्व में परिचालन करती है।

किरिन होल्डिंग्स का मूल जापान ब्रेवरी में है जिसकी स्थापना वर्ष 1885 में की गई थी। जापान ब्रेवरी का नाम वर्ष 1907 में किरिन ब्रेवरी हो गया। उसके बाद से इस कंपनी ने अपने मूलभूत तकनीकों के रूप में व्यवसाय किण्वन और जैव-प्रौद्योगिकी के साथ अपने व्यवसाय का विस्तार किया, और 1980 के दशक में औषधि व्यवसाय में कदम रखा। इसके ये सभी व्यवसाय वैश्विक वृद्धि के केंद्र बने हुए हैं। वर्ष 2007 में एक विशुद्ध होल्डिंग कंपनी के रूप में किरिन होल्डिंग्स की स्थापना की गई और वर्तमान में यह अपना स्वास्थ्य विज्ञान का क्षेत्र मजबूत करने पर फोकस कर रही है।

किरिन ग्रुप विज़न 2007 (केवी 2027) के अंतर्गत वर्ष 2019 में एक दीर्घकालीन प्रबंधन योजना, किरिन ग्रुप आरम्भ की गई, जिसका लक्ष्य हमारे खाद्य और पेय से लेकर औषधियों की दुनिया में मूल्य निर्माण करते हुए सीएसवी* में ग्लोबल लीडर बनना है। भविष्य में किरिन ग्रुप कॉर्पोरेट मूल्य में स्‍थायी वृद्धि हासिल करने के लक्ष्य के साथ अपने व्यवसायों के माध्यम से सामाजिक और आर्थिक दोनों मूल्य निर्माण करने के लिए अपनी शक्ति का लाभ उठाना जारी रखेगा।
 
*साझा मूल्य का निर्माण : उपभोक्ताओं और व्यापक समाज के लिए संयुक्त वर्धित मूल्य।
 
काओ कॉरपोरेशन के विषय में

काओ उच्च मूल्यवर्द्धित उत्पादों और सेवाओं का निर्माण करती है जो सभी लोगों और पृथ्वी के जीवन के लिए देखभाल और समृद्धि प्रदान करते हैं। अटैक, बायोर, गोल्डवेल, जर्गेंस, जॉन फ्रीडा, कनेबो, लॉरियर, मेरीज, और मोल्टन ब्राउन जैसे 20 से अधिक अग्रणी ब्रांडों के अपने पोर्टफोलियो के माध्यम से, काओ एशिया, ओशिनिया, उत्तरी अमेरिका, और यूरोप में लोगों के दैनिक जीवन से जुड़ा हुआ है। अपने केमिकल व्यवसाय, जो विविध प्रकार के उद्योगों की ज़रुरत पूरी करता है, के द्वारा काओ लगभग 1,420 बिलियन येन की वार्षिक बिक्री करता है। पूरे विश्व में काओ के लगभग 33,500 कर्मचारी हैं और नवाचार में इसका 135 वर्षों पुराना इतिहास है। नवीन जानकारी के लिए काओ ग्रुप की वेबसाइट देखें : https://www.kao.com/global/en/.

काओ ग्रुप में अप्रैल 2019 में अपनी ईएसजी रणनीति, किरी लाइफस्टाइल प्लान स्थापित की। वर्ष 2021 में, काओ ने अपनी मध्यावधि योजना 2025 (के25) आरम्भ की, जिसमें “भावी जीवनों की रक्षा” और “एकमात्र रास्ता के रूप में सस्टेनेबिलिटी” के संवर्धन को इसकी दूरदृष्टि के रूप में घोषित किया गया। काओ ग्रुप अपने ईएसजी रणनीति को अपने प्रबंधन पद्धतियों में शामिल करना जारी रखेगा। यह अपने व्यवसाय का विकास भी करेगा, तथा उपभोक्ताओं एवं समाज के लिए बेहतर उत्पाद एवं सेवायें मुहैया करने के साथ ही अपने उद्देश्य - “एक ऐसा किरी विश्व प्राप्त करना जसमें सभी प्राणी समन्वयपूर्वक रह सकें” - की दिशा में काम करता रहेगा।

businesswire.com पर स्रोत संस्करण इस लिंक पर देखें :
https://www.businesswire.com/news/home/20221110005029/en/
 

संपर्क :
प्रेस सम्बन्धी संपर्क
कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन विभाग किरिन होल्डिंग्स कंपनी लिमिटेड
नाकानो सेंट्रल पार्क साउथ, 4-10-2 नाकानो, नाकानो-कू, टोक्यो
https://www.kirinholdings.com/en/
kirin-cc@kirin.co.jp
 
कॉर्पोरेट पीआर, कॉर्पोरेट स्ट्रैटेजी, काओ कॉरपोरेशन
1-14-10, निहोन्बाशी कयाबाच, चुओ-कू, टोक्यो
https://www.kao.com/global/en/
corporate_pr@kao.com
 
घोषणा (अस्वीकरण): इस घोषणा की मूलस्रोत भाषा का यह आधिकारिक, अधिकृत रूपांतर है। अनुवाद सिर्फ सुविधा के लिए मुहैया कराए जाते हैं और उनका स्रोत भाषा के आलेख से संदर्भ लिया जा सकता है और यह आलेख का एकमात्र रूप है जिसका कानूनी प्रभाव हो सकता है।
किरिन होल्डिंग्स और काओ ने आँत की चर्बी और प्रतिरक्षा विज्ञान के बीच सम्बन्ध पर आरम्भ किया संयुक्त अनुसंधान

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।