नए साल की पार्टी पर ओमिक्रॉन का साया: रात 11 बजे से पहले बंद हो जाएंगे होटल-पब, सेलिब्रेशन न होने से उद्योग जगत को करोड़ों रुपये नुक्सान

इस बार एनसीआर में  नए साल का  जश्न ओमिक्रॉन के काले साये में है। उत्तर प्रदेश में रात का कर्फ्यू लगा दिया गया है और रात 11 बजे के बाद कोई कार्यक्रम नहीं हो सकता है। जबकि नए साल का जश्न रात 11 बजे के बाद ही शुरू हो जाता है।
 | 
new year party
इस बार एनसीआर में  नए साल का  जश्न ओमिक्रॉन के काले साये में है। यूपी में रात का कर्फ्यू लगा दिया गया है और रात 11 बजे के बाद कोई कार्यक्रम नहीं हो सकता है. ऐसे में रात 11 बजे से पहले सभी होटल, रेस्टोरेंट, फार्म हाउस, पब बंद रहेंगे  जबकि नए साल का जश्न रात 11 बजे के बाद ही शुरू हो जाता है। जाहिर है लोग इस बार नया साल नहीं मना पाएंगे। इससे एनसीआर में होटल उद्योग को 100 करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान हुआ है। होटल-रेस्टोरेंट जो नए साल की पार्टी के लिए एडवांस बुकिंग कर रहे थे, उन्हें यह बुकिंग कैंसिल करनी पड़ सकती है।

नोएडा में रात 10 बजे खत्म होंगी पार्टियां
रेस्टोरेंट एसोसिएशन ऑफ इंडिया के नोएडा चैप्टर के अध्यक्ष वरुण खोड़ा ने कहा, ''नए साल का जश्न दोपहर 12 बजे शुरू होता है. उसके बाद रात का खाना होता है। इससे पहले डांस, डिस्को और ड्रिंक का माहौल होता है। रात के कर्फ्यू की स्थिति में अगर 10 बजे पार्टी खत्म, पब, बार, रेस्टोरेंट, होटल में पार्टी आयोजक क्या करेंगे। सवाल यह भी है कि फिर लोग यहां क्या करने आएंगे वरुण खोड़ा ने कहा, पार्टियों के न होने से यह इंडस्ट्री एक रात में 25 करोड़ से ज्यादा का नुकसान होगा। 
क्रिसमस की शाम से 30 दिसंबर तक रोजाना 7 से 8 करोड़ का नुकसान होने का अनुमान है। 

गाजियाबाद में न पार्टी और न ही लेट नाइट फूड डिलीवरी
गाजियाबाद में 30 बड़े होटल और करीब दो हजार रेस्टोरेंट हैं। एक अनुमान के मुताबिक ये नए साल पर करीब 50 करोड़ का बिजनेस करते हैं। नए साल की पार्टियों में एक व्यक्ति के प्रवेश का टिकट 800 रुपये से लेकर 5000 रुपये तक है। रुपये के हिसाब से पार्टी में सुविधाएं हैं। इस बार नाइट कर्फ्यू के चलते न्यू ईयर पार्टी नहीं हो पाएगी। इसके चलते डिनर, डीजे नाइट, स्टैंडअप कॉमेडी, म्यूजिक नाइट जैसे कार्यक्रम नहीं होंगे। यहां होटल-रेस्टोरेंट से लेट नाइट फूड की होम डिलीवरी नहीं होगी। गाजियाबाद की सोसायटियों में लोगों ने अपने स्तर पर कार्यक्रम आयोजित करने की योजना बनाई थी, जिसे अब रद्द करना पड़ रहा है। 

new year

ड्रिंक पार्टी के लिए 118 आवेदन प्राप्त हुए
गाजियाबाद में 30-31 दिसंबर और 1 जनवरी की ड्रिंक पार्टी के लिए 118 आवेदन प्राप्त हुए हैं. दरअसल, किसी भी नए स्थान पर बार चलाने के लिए अस्थायी लाइसेंस लेना पड़ता है। हालांकि अभी तक उन्हें अनुमति नहीं दी गई है। इस संबंध में आबकारी विभाग की पुलिस व प्रशासन से बातचीत चल रही है।

मेरठ में नए साल के जश्न पर रोक
मेरठ में जिला प्रशासन ने नए साल के जश्न पर रोक लगा दी है. इस बार एलेक्जेंडर क्लब, व्हीलर्स क्लब जैसे प्रमुख स्थानों पर न्यू ईयर पार्टी नहीं होगी। मेरठ में हर साल ब्रॉडवे इन, ब्रावुरा, होटल हार्मनी इन, क्रिस्टल पैलेस, सम्राट पैलेस, कंट्री इन, हाइफन, मिराज बिस्त्रो, ग्रैंड 5 इन जैसे बड़े होटल नए साल का जश्न मनाते हैं, लेकिन इस बार ऐसा कुछ नहीं होगा। जिला प्रशासन ने साफ तौर पर कहा है कि किसी भी कार्यक्रम के आयोजन के लिए अनुमति लेनी होगी। अभी तक किसी को अनुमति नहीं दी गई है।

dr vinit

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।