मेरठ: दूषित पानी का कहर जारी, हैजा से डेढ़ साल की बच्ची समेत 5 लोगों की मौत, 22 परिवारों ने छोड़ा घर, डीएम दीपक मीणा से मिले विधयक अतुल प्रधान

मेरठ के सरधना के मोहल्ला चमारान में दूषित पानी पीने से कई लोगों के बीमार पड़ने का सिलसिला जारी है। मंगलवार को नौ और लोग बीमार हो गए, जबकि 12 परिवार अपने घर को छोड़ कर चले गए। हैजा से अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है।
 | 
sadhana
सरधना नगर के मोहल्ला मंडी चमारान में हैजा से बीमार होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। सीएचसी में मंगलवार को नौवें दिन नौ और मरीज भर्ती हुए। वहीं मेरठ के अस्पताल में भर्ती डेढ़ साल की बच्ची सानिया की बुधवार को मौत हो गई। दूषित जल के संक्रमण से यह पांचवीं मौत है। अब तक 289 लोग बीमार पड़ चुके हैं, जबकि एक गर्भस्थ शिशु समेत चार लोगों की मौत हो चुकी है।  दहशत का आलम यह है कि मोहल्ले के 22 परिवार घरों में ताला लगाकर रिश्तेदारों के यहां चले गए हैं।Read Also:-उत्तर प्रदेश : अगर आप प्रकृति प्रेमी हैं, तो आइये बिजनौर के अमानगढ़ जंगल सफारी और उठायें यहां की रोमांच भरी खूबसूरती का आनंद, ये न्यू जिम कार्बेट के नाम से जाना जाएगा

 

लोगों ने बताया कि दूषित पानी की आपूर्ति के बाद नगर पालिका ने पानी के टैंकर भेजने शुरू किए थे, लेकिन उन्हें पर्याप्त आपूर्ति नहीं हो पा रही है। वहीं, एसडीएम सत्यप्रकाश ने बताया कि नई पाइप लाइन से पानी की आपूर्ति के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। जल निगम व स्वास्थ्य विभाग की टीम पानी के सैंपल लेकर जांच कर रही है।

 

रिपोर्ट सामान्य आने पर गुरुवार से मोहल्ले में नई पाइप लाइन से स्वच्छ जलापूर्ति शुरू कर दी जाएगी। मोहल्लों में एंटी लार्वा स्प्रे व फॉगिंग कराई जा रही है। इसके अलावा पानी की सप्लाई बदलने के बाद भी लोग बीमार हो रहे हैं, जिससे लोग संक्रमण की एक दूसरी वजह पर भी शक जता रहे हैं। 

 

सड़कों पर जलभराव के कारण परेशानी
मोहल्ला मंडी चमारान में पाइप लाइन बदलने के लिए सड़कों में खुदाई की गई है। पाइप लाइन डालने के बाद जगह-जगह मलबे के ढेर लग गए हैं। घरों से आने वाला  पानी गलियों में भरा हुआ है। इससे मच्छरों का प्रकोप बढ़ गया है। स्थानीय लोगों ने नगर पालिका प्रशासन से सड़क को ठीक करने की मांग की है। 

 

विधायक अतुल प्रधान डीएम से मिले 
मंगलवार को विधायक अतुल प्रधान के नेतृत्व में मोहल्ले के लोगों ने डीएम दीपक मीणा से मुलाकात की। विधायक ने शहर की कई समस्याओं से डीएम को अवगत कराया। उन्होंने कहा कि शहर में फैली हैजे की बीमारी से मरने वालों के परिजनों को आर्थिक मदद दी जाए। परिवार के एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी दी जाए।

 

निजी अस्पतालों में इलाज कराने वाले मरीजों का पैसा वापस किया जाए। सभी परिवारों को आर्थिक मदद दी जाए। शहर में स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था की जाए। रोग के कारणों का पता लगाकर आवश्यक कार्रवाई की जानी चाहिए। शहर से निकलने वाले कचरे के लिए उचित जगह तय की जाए। सरकारी जमीन पर अतिक्रमण रोका जाए और उसे खाली कराया जाए।
sonu

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।