Connect with us

Hi, what are you looking for?

महाराष्ट्र

शर्मनाक ! 2 करोड़ में प्रधान पद की नीलामी, चुनाव रद्द

महाराष्ट्र में सरपंच के पद की नीलामी का मामला आया है। इसके बाद चुनाव आयोग ने नासिक जिले के उमरेन और नंदुरबार जिले के खोंडामाली गांव में चुनाव रद्द कर दिया है। सरपंच पद की नीलामी के वीडियो वायरल हुए थे। आपसी सहमति से उमरेन गांव में सरपंच पद की नीलामी 2 करोड़ रुपए में, जबकि खोंडामाली में 40 लाख रुपए में हुई थी। चुनाव आयोग ने इसे मतदाताओं और चुनाव लड़ने के इच्छुक लोगों के अधिकारों का हनन माना है।

निर्वाचन आयोग ने बताया कि मीडिया रिपोर्ट्स थी कि महाराष्ट्र के उमरेन और खोंडामाली की ग्राम पंचायत के सदस्यों और सरपंच की सीटों की नीलामी की जा रहीं हैं। जिसके बाद तहसीलदार, उप-विभागीय अधिकारी, चुनाव पर्यवेक्षक और कलेक्टरों से रिपोर्ट मांगी गई थी। शिकायतों, रिपोर्टों और ऑडियो-विज़ुअल मीडिया रिपोर्टों के सत्यापन के बाद, इस प्रक्रिया को रद्द करने का निर्णय लिया गया। उन्होंने दोनों जिलों के कलेक्टरों को भी शामिल व्यक्तियों के खिलाफ मामले दर्ज करने और आयोग के समक्ष रिपोर्ट दर्ज करने का आदेश दिया है।

हो रहा था मौलिक अधिकारों का हनन
निर्वाचन आयोग ने पाया कि केवल ग्रामीणों के एक वर्ग के दबाव के कारण, चुनाव लड़ने के इच्छुक लोग अवसर से वंचित थे और साथ ही, मतदाता अपनी पसंद के व्यक्ति के पक्ष में अपना वोट डालने से वंचित थे। इस प्रक्रिया से लोकतंत्र के मौलिक अधिकारों और आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन हुआ।

उमराने का सरपंच पद 2 करोड़ में हुआ नीलाम
दरअसल सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हुआ था। इस वीडियो में कथित तौर पर एक प्रसिद्ध प्याज बाजार में उमराने के सरपंच पद के लिए बोली लगाते हुए दिखाया गया। यह घटना 27 दिसंबर को हुई थी।

पोस्ट के लिए बोली 1.1 करोड़ रुपये से शुरू हुई थी और अंतिम बोली लगाने वाले ने 2 करोड़ से अधिक की पेशकश की थी। वीडियो वायरल होने के बाद, नासिक कलेक्टर सूरज मंधारे ने संबंधित अधिकारियों से इस मामले की रिपोर्ट मांगी। रिपोर्ट को राज्य निर्वाचन आयोग को सौंपा गया।

Click to comment

Leave a Reply

Facebook

You May Also Like

Advertisement
DMCA.com Protection Status
x
%d bloggers like this: