जबलपुर के निजी अस्पताल में आग लगने से 10 लोगो की मौत, 13 की हालत गंभीर; बढ़ सकती है मरने वालों की संख्या

 उस समय लोगों ने चीख-पुकार भी सुनी। इसके बाद इन लोगों ने तुरंत पुलिस और दमकल को सूचना दी। लेकिन आग इतनी भीषण थी कि जब तक दमकल और पुलिस मौके पर पहुंची तब तक आग चारों तरफ फैल चुकी थी। 
 | 
Jabalpur
जबलपुर शहर के न्यू लाइफ स्पेशलिटी अस्पताल में लगी आग में कई लोगों के हताहत होने की खबर है। बताया जा रहा है कि इस आग में 10 लोगों के मारे जाने की खबर है। इस आग में आधा दर्जन से ज्यादा लोग झुलस भी चुके हैं। अपुष्ट सूत्रों के मुताबिक इस आग में कई मरीज जिंदा जल गए हैं। एक और कड़ी मशक्कत के बाद फायर बिग्रेड ने आग पर काबू पा लिया है। आग लगने से काफी देर तक अस्पताल में अफरातफरी का माहौल रहा।

 

जबलपुर सीएसपी अखिलेश गौर ने मीडिया को जानकारी दी है कि अब तक 4 लोगों की पुष्टि हो चुकी है। उन्होंने बताया कि तीन अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्होंने कहा कि आग भयानक थी। बचाव के लिए गई हमारी चार टीमें भी अस्पताल के अंदर फंस गईं। आग लगने का कारण शार्ट सर्किट हो सकता है। इधर, राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतक के परिजन को पांच-पांच लाख रुपये मुआवजे की घोषणा की है। 

 

 

मीडिया रिपोर्ट्स में कुछ चश्मदीदों के हवाले से यह भी कहा जा रहा है कि अस्पताल से करीब 7 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं, जिसे उन्होंने अपनी आंखों से देखा है। अब तीन अन्य लोगों की मौत की भी खबर है। अस्पताल में कितने मरीज भर्ती थे, इसकी जानकारी अभी नहीं मिल पाई है। इस अस्पताल में करीब 100 लोगों का स्टाफ है। हालांकि कुल मौतों को लेकर अभी संशय बना हुआ है। कहा जा रहा है कि अब हताहतों की संख्या बढ़ सकती है।

 

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि घटना का पता तब चला जब कुछ लोग दमोह नाका से निकल रहे थे और अस्पताल में आग लगी देखि। उस समय लोगों ने चीख-पुकार भी सुनी। इसके बाद इन लोगों ने तुरंत पुलिस और दमकल को सूचना दी। लेकिन आग इतनी भीषण थी कि जब तक दमकल और पुलिस मौके पर पहुंची तब तक आग चारों तरफ फैल चुकी थी। 

 

बताया जा रहा है कि आग इतनी भीषण थी कि दमकल कर्मी इस पर काबू नहीं पा सके। अस्पताल में बिजली कनेक्शन काटा गया। जिसके बाद इस भयानक आग पर काबू पाया जा सका। garauv

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।