Connect with us

Hi, what are you looking for?

उत्तरप्रदेश

UP विधान परिषद चुनाव : सभी 11 सीटों का आया रिजल्ट, जाने BJP – SP को कितनी सीट मिलीं

UP विधान परिषद चुनाव की सभी 11 सीटों का नतीजा आ गया है। BJP को 6 सीटें, जबकि 3 सीटों पर सपा और 2 सीटों पर निर्दलियों ने कब्जा जमाया है। बता दें कि चुनाव परिणाम शुक्रवार देर रात से आने शुरू हुए और रविवार शाम तक मतगणना संपन्न हुई है। खंड स्नातक कोटे की 5 सीटों में सपा दो और तीन सीटों पर BJP को जीत मिली है, जबकि शिक्षक खंड की 6 सीटों में से 3 बीजेपी, 2 निर्दलीय और 1 सपा को मिली हैं।

उत्तर प्रदेश विधान परिषद (Uttar Pradesh Legislative Council) के लखनऊ खंड स्‍नातक क्षेत्र का रविवार को चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद सभी 11 सीटों की तस्‍वीर साफ हो गई है जिसमें सत्तारूढ़ भाजपा को छह सीटें मिली हैं. खंड शिक्षक और खंड स्‍नातक क्षेत्र की छह सीटें भाजपा (BJP) के खाते में गई हैं. जबकि तीन सीटों पर समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) और दो सीटों पर निर्दलियों ने कब्‍जा जमाया है. आपको बता दें कि चुनाव परिणाम शुक्रवार देर रात से आने शुरू हुए और रविवार शाम तक मतगणना संपन्‍न हुई है. यही नहीं, खंड स्नातक कोटे से पांच निर्वाचन क्षेत्रों में संपन्न हुए चुनावों में सपा ने दो और तीन सीटों पर भाजपा को जीत मिली है.

अवनीश कुमार सिंह की जीत के साथ…

निर्वाचन आयोग के एक अधिकारी ने रविवार को बताया कि लखनऊ खंड स्‍नातक क्षेत्र से भाजपा के अवनीश कुमार सिंह चुनाव जीत गये हैं. इसके पहले शनिवार को आगरा खंड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा के ही मानवेंद्र सिंह ‘गुरु जी’ और मेरठ स्नातक क्षेत्र से भाजपा के दिनेश गोयल ने जीत हासिल की.

Advertisement. Scroll to continue reading.

आगरा में भाजपा के लिए काफी कड़ी चुनौती रही, क्‍योंकि यहां सपा के असीम यादव खासे दमदार उम्‍मीदवार थे. वाराणसी खंड स्नातक क्षेत्र से सपा के आशुतोष सिन्हा और झांसी-इलाहाबाद खंड स्नातक क्षेत्र से सपा के मान सिंह यादव ने जीत दर्ज की.

यही नहीं, वाराणसी और झांसी-इलाहाबाद खंड स्नातक क्षेत्र में सपा ने भाजपा के कब्ज़े वाली सीटें हासिल की हैं. जबकि आगरा खंड स्नातक क्षेत्र की सीट सपा को गंवानी पड़ी है. मेरठ स्नातक सीट पर पिछले चार बार से निर्दलीय (शिक्षक दल) हेम सिंह पुंडीर जीतते आ रहे थे जिनका वर्चस्व खत्म हो गया. लखनऊ खंड स्नातक सीट पर पिछली बार निर्दलीय कांति सिंह जीती थी.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने रविवार को बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशों के क्रम में सभी सीटों पर मतगणना पूरी हो गई और परिणाम घोषित कर दिये गये. उल्लेखनीय है कि शिक्षक कोटे की छह सीटों के परिणाम शुक्रवार को ही घोषित कर दिये गये थे, जिनमें तीन सीटें भाजपा, एक सपा और दो निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीती है.

Advertisement. Scroll to continue reading.

भाजपा का दिखा दबदबा
लखनऊ खंड शिक्षक क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के उमेश द्विवेदी ने दोबारा जीत दर्ज की लेकिन पिछली बार वह निर्दलीय जीते थे. इसके अलावा मेरठ खंड शिक्षक क्षेत्र से भाजपा के ही श्रीशचंद्र शर्मा ने शिक्षक दल के नेता और करीब पांच दशक से लगातार चुनाव जीत रहे ओम प्रकाश शर्मा को हरा दिया. बरेली-मुरादाबाद खंड शिक्षक क्षेत्र से भाजपा के हरी सिंह ढिल्लों ने सपा के संजय कुमार मिश्र को हराकर जीत हासिल की.

इसके अलावा वाराणसी खंड शिक्षक क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी लाल बिहारी यादव ने निर्दलीय चेत नारायण सिंह को चुनाव हराया. जबकि आगरा खंड शिक्षक क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार आकाश अग्रवाल ने निर्दलीय (शिक्षक दल) जगवीर किशोर जैन से यह सीट जीत ली. गोरखपुर फैजाबाद खंड शिक्षक क्षेत्र से निर्दलीय (शिक्षक दल) ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने अपनी सीट बरकरार रखी है.

199 उम्मीदवार थे मैदान में
विधान परिषद की 11 सीटों के लिए मंगलवार को मतदान संपन्न हुआ था, जो छह खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र और पांच खंड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र की सीटों के लिए कराया गया था. इस चुनाव में भाजपा, सपा, कांग्रेस, शिक्षक दलों के प्रत्याशी और निर्दलीय उम्मीदवार समेत कुल 199 उम्मीदवार थे. बहुजन समाज पार्टी इस चुनाव से बाहर थी.

Advertisement. Scroll to continue reading.

गौरतलब है कि 100 सदस्यों वाली उत्तर प्रदेश विधान परिषद में इस समय सपा के 52, भाजपा के 19, बसपा के आठ, कांग्रेस के दो, अपना दल सोनेलाल के एक, शिक्षक दल के एक और तीन निर्दलीय सदस्य हैं. इसके अलावा कुल 14 सीटें खाली थीं जिनमें 11 सीटों पर मंगलवार को मतदान हुआ. 11 सीटों के परिणाम घोषित होने के बाद सपा के सदस्यों की संख्या 55 हो गई हैं. जबकि भाजपा के सदस्यों की संख्या बढ़कर 25 हो गई है, अभी भी तीन सीटों पर चुनाव होने बाकी हैं.

Click to comment

Leave a Reply

You May Also Like

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Follow me on Twitter

DMCA.com Protection Status