Connect with us

Hi, what are you looking for?

khabreelal

टेक्नोलॉजी

दुनिया में 1,773,107 संक्रमित, 108,471 मौत: अमेरिका में दुनिया में सबसे ज्यादा 20460 मौत, 24 घंटे में 2000 से ज्यादा ने तोड़ा दम

दुनियाभर में कोरोनावायरस से अब तक 108,471 लोगों की मौत हो चुकी है। 401,498 ठीक हो चुके हैं। 210 देशों में 1,773,107 लोग संक्रमित हैं। कुल मौतों और संक्रमितों के लिहाज से शनिवार रात अमेरिका सबसे ऊपर पहुंच गया।

दुनियाभर में कोरोनावायरस से अब तक 108,471 लोगों की मौत हो चुकी है। 401,498 ठीक हो चुके हैं। 210 देशों में 1,773,107 लोग संक्रमित हैं। कुल मौतों और संक्रमितों के लिहाज से शनिवार रात अमेरिका सबसे ऊपर पहुंच गया। यहां अब तक कुल 20 हजार 069 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां 24 घंटे में 2000 से ज्यादा मौत हुई हैं। वहीं इटली में यह आंकड़ा 19 हजार 468 है। इटली में संक्रमण से 100 प्रीस्ट (ईसाई धर्मगुरु या पादरी) की भी मौत हुई है।

स्पेन में 23 मार्च के बाद शुक्रवार को सबसे कम 510 लोगों की जान गई। यहां 16 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इसके बावजूद सरकार गैरजरूरी सेवाओं पर से प्रतिबंध हटाने जा रही है। डेनमार्क में अगले हफ्ते स्कूल भी खुल जाएंगे। ये हालात तब हैं जबकि डब्ल्यूएचओ ने शुक्रवार को ही कहा था कि लॉकडाउन खत्म करने में किसी भी देश को जल्दबाजी नहीं दिखानी चाहिए। इससे और ज्यादा लोगों की मौत हो सकती है।

Advertisement. Scroll to continue reading.

कोरोनावायरस : सबसे ज्यादा प्रभावित 10 देश

देशकितने संक्रमितकितनी मौतेंकितने ठीक हुए
अमेरिका529,15420,46029,442
स्पेन163,02716,60659,109
इटली1,52,57719,46830,455
फ्रांस1,24,86913,19724,932
जर्मनी1,22,1712,76753,913
चीन81,9533,33977,525
ब्रिटेन78,9919,875344
ईरान70,0294,35741,947
तुर्की47,0291,0062,423
बेल्जियम28,0183,3465,986

स्रोत: https://www.worldometers.info/coronavirus/

अमेरिका : शुक्रवार को 2057 की मौत
संक्रमण के बाद अमेरिका में सबसे ज्यादा मौतें शुक्रवार को हुईं। 2057 लोगों ने दम तोड़ दिया। शनिवार रात तक यहां कुल 18 हजार 883 लोगों की मौत हो चुकी थी। सात अप्रैल को यहां 1997 लोगों की मौत हुई थी। इटली में कुल मौतों का आंकड़ा 18 हजार 849 है।

Advertisement. Scroll to continue reading.
बोस्टन के के एक पार्क में बैठी महिलाएं। वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी की एक फैकल्टी के मुताबिक, अगर ट्रम्प सरकार 1 मई से सोशल डिस्टेंसिंग जैसे प्रतिबंधों में ढील देती है तो जुलाई तक कोरोनावायरस नए और बेहद घातक रूप में सामने आ सकता है।  

इटली : मरने वालों में 100 प्रीस्ट भी
न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, कोरोनावायरस से इटली में अब तक 100 प्रीस्ट की भी मौत हो चुकी है। इतने ही डॉक्टर यहां दम तोड़ चुके हैं। संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित बर्गेमो शहर में अब भी कुछ प्रीस्ट अपने काम को अंजाम दे रहे हैं। जिन पादरियों की मौत हुई है उनमें से ज्यादातर रिटायर्ड बताए गए हैं। ‘एविनिर’ अखबार का संचालन इटली की बिशप कॉन्फ्रेंस करती है। इसने शुक्रवार को इन प्रीस्ट के सम्मान में हैशटैग ‘प्रीस्ट्सफॉरएवर’ का इस्तेमाल किया।

स्पेन : सरकार गैर जरूरी सेवाएं भी शुरू करेगी
यूरोपीय देशों में इटली के बाद स्पेन सबसे ज्यादा प्रभावित है। दुनिया के ज्यादातर देशों में लॉकडाउन बढ़ाया जा रहा है और सख्ती की जा रही है। लेकिन, स्पेन और ऑस्ट्रिया अलग रास्ते पर चल रहे हैं। यहां सोमवार से गैर जरूरी सेवाएं भी शुरू की जा रही हैं। न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, इसकी एक वजह से मौतों में लगातार दर्ज की जा रही गिरावट है। हेल्थ मिनिस्टर साल्वाडोर इला ने माना कि देश में कोरोना का खतरा अभी कम नहीं हुआ है। डब्लूएचओ ने भी पाबंदियों में ढील न देने को कहा है। लेकिन, सरकार शायद सुनने तैयार नहीं है। सरकार का तर्क है कि मध्य मार्च में मौतों की दर 23 फीसदी थी। अब ये 20 प्रतिशत हो गई है। एक तर्क ये भी है कि 59 हजार संक्रमित अब स्वस्थ हैं। ईस्टर की छुट्टियों के बाद सोमवार से फैक्ट्रियों में काम शुरू हो जाएगा। पब्लिक ट्रांसपोर्ट भी धीरे-धीरे खोले जाएंगे। हालांकि, मास्क लगाना जरूरी होगा। रेलवे स्टेशन और हाईवे पर इन्हें सरकार आम लोगों तक पहुंचाएगी। वैसे, सिर्फ स्पेन ही क्यों। ऑस्ट्रिया, चेक रिपब्लिक, स्वीडन और नॉर्वे ने भी प्रतिबंध कर कर दिए हैं। डेनमार्क में तो अगले हफ्ते से स्कूल भी खुलने जा रहे हैं।

बेलारूस की राजधानी मिंस्क में शनिवार को मास्क लगाकर आईना देखतीं महिलाएं। यहां 2 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं। 23 की मौत हो चुकी है। लेकिन, राष्ट्रपति एलेक्जेंडर लुकाशेंको कई दिन पहले ही साफ कर चुके हैं कि देश में न तो लॉकडाउन किया जाएगा और न ही बॉर्डर सील की जाएंगी।

अमेरिका : न्यूयॉर्क में जून तक नहीं खुलेंगे स्कूल
न्यूयॉर्क शहर के सभी स्कूल जून तक बंद रहेंगे। मेयर बिल डि ब्लासियो ने शनिवार को यह जानकारी दी। मेयर के मुताबिक, इस शिक्षा सत्र में शहर के सरकारी स्कूल नहीं खुलेंगे। ऑनलाइन एजुकेशन के ज्यादातर इंतजाम पूरे कर लिए गए हैं। ब्लासियो ने कहा, “सिर्फ कुछ हफ्तों के लिए स्कूल खोलना सही नहीं होगा। क्योंकि, हालात को देखते हुए सुरक्षा के काफी इंतजाम करने होंगे। इससे कोरोनावायरस का खतरा बढ़ भी सकता है।”

अमेरिका : मई में प्रतिबंध हटाना खतरनाक होगा
राष्ट्रपति ट्रम्प ने दो दिन पहले संकेत दिए थे कि सरकार 1 मई से कुछ प्रतिबंध हटा सकती है या इनमें ढील दी जा सकती है। लेकिन, ‘इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ मैट्रिक्स एंड इवेल्यूशन’ (आईएचएमई) संगठन ने इसके खिलाफ चेतावनी दी। संगठन के मुताबिक, अगर मई की शुरुआत में प्रतिबंध हटाए जाते हैं तो जुलाई तक कोरोना फिर बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। आईएचएमई वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी की ही एक फैकल्टी है। इसके मुताबिक, सोशल डिस्टेंसिंग जैसे उपायों में ढील नहीं दी जानी चाहिए। आईएचएमई के डायरेक्टर डॉक्टर क्रिस मुरे ने सीएनएन से कहा, “कोरोना के लौटने की पूरी आशंका है। यह उन राज्यों में भी हो सकता है जहां अब तक कम मामले हैं।”

अमेरिका: न्यूयॉर्क में 24 घंटे में 777 मौतें

Advertisement. Scroll to continue reading.

अमेरिका में 24 घंटे में 2,034 लोगों की मौत हुई है। 35 हजार 98 केस की पुष्टि हुई है। यहां अब तक कुल 18 हजार 761 लोग जान गंवा चुके हैं। दुनिया में सबसे ज्यादा संक्रमण के करीब पांच लाख तीन हजार मामले अमेरिका में ही हैं। अकेले न्यूयॉर्क ने संक्रमण के मामले में सभी देशों को पीछे छोड़ दिया है। यहां अब तक एक लाख 72 हजार 358 मरीज मिल चुके हैं। राज्य में 24 घंटे में 777 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही मौतों का आंकड़ा सात हजार 844 हो गया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार को कहा कि देश में लगाए गए प्रतिबंधों में स्थिति सामान्य होने तक कोई ढील नहीं दी जाएगी।

अमेरिका: ब्रूकलिन में स्थिक ब्रूकडेल हॉस्पिटल में मरीज को ले जाते स्वास्थ्यकर्मी। यहां न्यूयॉर्क में एक लाख 77 हजार कोरोना मरीज हैं।

‘जिन देशों ने अपने नागरिकों को अमेरिका से नहीं बुलाया, उन पर नया वीजा प्रतिबंध लगेगा’

अमेरिका ने उन देशों पर नए वीजा प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है, जिन्होंने कोरोना महामारी के दौरान अपने नागरिकों को स्वदेश बुलाने से इनकार कर दिया। ट्रम्प ने शुक्रवार देर रात कहा, “कोरोनावायरस महामारी के बीच जिस भी देश ने अमेरिका से अपने नागरिकों को स्वदेश वापसी की स्वीकृति नहीं दी या अनुचित रूप से देरी की है, अमेरिका उन पर वीजा प्रतिबंध लगाएगा। इन देशों ने अमेरिकी लोगों के लिए स्वास्थ्य संबंधी खतरे को और बढ़ा दिया है। अमेरिका देश के कानून का उल्लघंन करने वाले विदेशी नागरिकों को उनके देश भेजने में सक्षम है।”

  • ट्रम्प ने कहा- कोरोना रोकथाम के लिए लगाए गए प्रतिबंधों में ढील देने से जुड़े फैसले लेने के लिए अलग टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा।
  • वॉशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, 60 प्रतिशत से ज्यादा मौतें न्यूयाॅर्क (777), न्यूजर्सी (232) और मिशीगन (205) राज्य में हुई है।
  • इससे पहले बुधवार को सर्वाधिक 1,936 लोगों की मौत हुई थी। कोरोना के कारण इटली के बाद अमेरिका में सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं।
अमेरिका: विसकॉन्सिन स्टेट के मिल्वौकी शहर में मंगलवार को मेयर का चुनाव हुआ। वोट देने के लिए लाइन में लगे लोग।

इटली: 24 घंटे में 570 मौतें
इटली के प्रधानमंत्री गिसुपी कॉन्टे ने देश में लॉकडाउन तीन मई तक बढ़ा दिया है। इससे पहले यहां 9 मार्च से 3 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाया गया था, जिसे 13 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया था। इटली में कोरोना से 24 घंटे में 570 लोगों की मौत हुई है, जबकि संक्रमण के करीब चार हजार मामले सामने आए हैं। कोरोना से यहां सबसे ज्यादा 18 हजार 849 लोगों की मौत हुई है। वहीं अब तक एक लाख 47 हजार संक्रमित हो चुके हैं।

इटली: वेटिकन स्थित सेंट पीटर स्क्वाएर। सरकार ने यहां लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ा दिया है।

फ्रांस: अब तक 13 हजार से ज्यादा लोगों की मौत

फ्रांस में शुक्रवार को 987 लोगों ने दम तोड़ा है। इसके साथ ही वहां मौतों का आंकड़ा 13 हजार से ज्यादा हो गया है। इटली, स्पेन और अमेरिका के बाद फ्रांस चौथा देश हैं, जहां सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं। यहां अब तक एक लाख 24 हजार लोग संक्रमित हैं।

Advertisement. Scroll to continue reading.
फ्रांस में एक कोरोना मरीज को अस्पताल ले जाते चिकित्साकर्मी। यहां एब तक 13 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

ब्रिटेन: 19 स्वास्थ्यकर्मियों की मौत

ब्रिटेन में 73 हजार 758 लोग कोरोना से संक्रमित हैं। यहां आठ हजार 958 लोगों की जान जा चुकी है। स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने शनिवार को बीबीसी से कहा कि नेशनल हेल्थ सर्विस (एनएचएस) के 19 सदस्यों की कोरोना से मौत हो गई। इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजन के साथ है। ये ऐसे लोग हैं, जिन्होंने सामने आकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ी। इनमें कई स्वास्थ्यकर्मी अल्पसंख्यक समूह से थे।

  • स्थानीय मीडिया ने कहा- लिवरपूल के एंट्री अस्पताल में महामारी से संक्रमित 102 साल की बुजुर्ग महिला स्वस्थ हुई। उन्हें शुक्रवार को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने शुक्रवार को कहा कि वार्ड की सबसे बुजुर्ग मरीजों में से एक के स्वस्थ होकर घर जाने पर नर्सें इकट्ठा हुईं और खुशी के साथ तालियां बजाकर उन्हें विदाई दी।
  • ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने शुक्रवार को कहा कि अभी हर दिन लगभग 19 हजार टेस्ट किए जा रहे हैं। साथ ही कहा कि प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट ता इस्तेमाल अस्पताल में इलाज के लिए किया जाएगा।
  • उन्होंने कहा कि अगले हफ्ते से अस्पतालों में इसकी सप्लाई शुरू कर दी जाएगी। आगे चलकर इनका निर्यात भी बढ़ाया जाएगा।
  • ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन आईसीयू से बाहर आ गए हैं। तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें सोमवार रात लंदन के सेंट थॉमस अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। उन्हें वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है।
  • 27 मार्च को बोरिस जॉनसन की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद उन्होंने खुद को आइसोलेट कर लिया था। इसके 10 दिन बाद उनकी तबीयत ज्यादा खराब हो गई।
  • उनकी गैरहाजिरी में विदेश मंत्री डोमिनिक राब जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। जॉनसन को वॉर्ड में थोड़ी दूर चलने के लिए भी कहा गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगर उन्हें ज्यादा थकान महसूस नहीं होगी तो कुछ हल्की एक्सरसाइज भी कराई जा सकती हैं। डॉक्टर इसके जरिए उनकी रिकवरी प्रॉसेस समझना चाहते हैं।
लंदन के सुपरमार्केट में जाने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लाइन में लगे लोग।

जर्मनी: राष्ट्रपति शनिवार को लोगों को संबोधित करेंगे

कोरोनावायरस महामारी के बीच जर्मनी के राष्ट्रपति फ्रैंक-वाल्टर स्टीनमेयर शनिवार को रात में जर्मन नागरिकों को संबोधित करेंगे। जर्मन राष्ट्रपति की भूमिका काफी हद तक औपचारिक है। आम तौर पर राष्ट्रपति क्रिसमस के दौरान साल में केवल एक बार राष्ट्र को संबोधित करते हैं। जर्मनी में वायरस से कुल 2,736 लोग मारे गए हैं, जबकि एक लाख 22 हजार 171 संक्रमित हैं। यहां शुक्रवार को 171 लोगों की मौत हुई है।

द.कोरिया: ठीक हुए 91 मरीज फिर से संक्रमित
बीबीसी के मुताबिक, दक्षिण कोरिया के स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा है कि देश में कोरोना से ठीक हुए 91 लोगों का टेस्ट फिर से पॉजिटिव आया है। कोरिया सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने कहा है कि वे दोबारा कैसे संक्रमित हुए इसका पता नहीं चल पाया है। कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि हो सकता है उनका टस्ट ठीक से न हुआ हो। यहां अब तक 208 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि दस हजार 450 संक्रमित हैं।

Advertisement. Scroll to continue reading.
दक्षिण कोरिया: डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार ली नाक-योन के समर्थक।

ईरान: एशिया में चीन के बाद सबसे ज्यादा मौत

ईरान में शुक्रवार को 122 लोगों की मौत हो गई। देश में मौतों का कुल आंकड़ा 4,232 हो गया है। वहीं, एशिया में चीन (3,339) के बाद सबसे ज्यादा लोगों की जान ईरान में ही गई है। यहां संक्रमण के अब तक 68 हजार 192 मामले हो चुके हैं।

ईरान: तेहरान का मेन हाईवे। यहां के दीवारों पर दिवंगत धार्मिक क्रांतिकारी नेता अयातुल्ला खुमैनी का चित्र बनाया गया है। यहां अब तक कोरोना से 4,232 मौतें हो चुकी हैं।

ब्राजील: एक हफ्ते में तीन गुना मौतें
स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि ब्राजील में कोरोनोवायरस से होने वाली मौतों की संख्या एक सप्ताह में लगभग तीन गुना हो गई है। तीन अप्रैल को मौतों का आंकड़ा 359 था। 10 अप्रैल को यह 1,074 हो गया। जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के मुताबिक, देश में फिलहाल संक्रमण के 19,789 केस हैं। राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो संक्रमण रोकने के उपायों को जारी रखने की बात लगातार खारिज कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश की आर्थिक स्थिति महामारी से भी ज्यादा बदतर है। उन्होंने पहले भी कोरोनावायरस को एक मामूली फ्लू बताया था। बोल्सनारो ने देश के कई राज्यों के गवर्नर द्वारा लागू किए गए सेल्फ आइसोलेशन को हटाने की भी मांग की थी।

ब्राजील: रियो डी जनेरियो में एक इलाके को डिसइनफेक्ट करता स्वास्थ्यकर्मी।

न्यूजीलैंड: शुक्रवार को 2 लोगों की मौत
‘गार्जियन’ के मुताबिक, न्यूजीलैंड में शुक्रवार को दो लोगों की मौत हो गई। देश में अब तक कुल चार लोगों की जान जा चुकी है। शुक्रवार को 49 लोगों को अस्पताल से छुट्टी मिल गई। यहां संक्रमण के 1,312 मामले सामने आ चुके हैं।

फिलीपींस: मेडिकल स्टाफ के विदेश में काम करने पर बैन
फिलीपींस ने अपने देश के मेडिकल स्टाफ के दूसरे देशों में काम करने पर बैन लगा दिया है। दो अप्रैल को श्रम सचिव के आदेश में डॉक्टर्स, नर्सों, मेडिकल टेक्निशियन और अन्य स्टाफ को विदेश में काम करने से प्रतिबंधित किया गया है। देश में इस समय आपातकाल लगा हुआ है। आदेश में कहा गया है कि फिलीपींस हर साल 13 हजार मेडिकल स्टाफ को विदेश भेजता है। वहीं, देश में दो लाख 90 हजार स्वास्थ्यकर्मियों की कमी है। यहां अब तक कोरोना से 4,195 लोग संक्रमित हैं, जबकि 221 की मौत हो चुकी है।

चीन: 46 नए मामले

Advertisement. Scroll to continue reading.

चीन के नेशनल हेल्थ कमीशन के मुताबिक, शुक्रवार को देश में कोरोना के 46 नए मामले सामने आए और तीन मौतें हुई हैं। इनमें 34 ऐसे केस हैं, जिनमें लक्षण स्पष्ट नहीं दिख रहे। इसके साथ ही चीन में संक्रमण के कुल मामले 81 हजार 953 हो चुका है, जबकि 3,339 लोगों ने जान गंवाई है।

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का स्केच। शुक्रवार को यहां 46 नए मामले सामने आए हैं।

तुर्की: 31 प्रांतों में 48 घंटे तक कर्फ्यू
तुर्की में कोरोनावायरस से निपटने के लिए शुक्रवार आधी रात से 31 प्रांतों में 48 घंटे के लिए कर्फ्यू लगा दिया गया है। देश के गृह मंत्री ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की। इसमें अंकारा, अदाना, आएदिन, बुरसा, इस्तानबुल, कोन्या, इरसुरुम जैसे शहर शामिल हैं। देश में 47 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं, जबकि 1,006 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां भी इस्तानबुल के एक अस्पताल में भर्ती 93 साल की महिला ठीक हो चुकी है।

तुर्की सरकार द्वारा कर्फ्यू के ऐलान के बाद इस्तानबुल में खरीदारी के लिए उमड़ी भीड़। सरकार ने 31 प्रांतों में 48 घंटे तक कर्फ्यू की घोषणा की है।

अफगानिस्तान: राष्ट्रपति भवन के 20 कर्मचारी संक्रमित

अफगान प्रेसिडेंशियल पैलेस में 517 सैंपलों की जांच के बाद 20 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। टोलो न्यूज ने शुक्रवार को बताया कि इन मामलों के सामने आने के बाद स्वास्थ्यकर्मियों ने राष्ट्रपति पैलेस के अन्य अधिकारियों और कर्मचारियों के सैंपल लेने शुरू कर दिए हैं। डॉक्टरों ने कहा कि हमें अधिक टेस्ट किटों की जरूरत है। जनस्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि शुक्रवार को कोरोनोवायरस के 37 नए मामले सामने आए हैं, जिससे संक्रमितों की संख्या 521 हो गई है। वहीं, अब तक 15 लोगों की मौत हो चुकी है।

कोरोना अपडेट्स

Advertisement. Scroll to continue reading.
  • अर्जेंटीना मे कोरोना संक्रमण के 1,975 मामले हैं, जबकि 82 लोगों की मौत हो चुकी है। राष्ट्रपति एल्बेतो फर्नांडीज ने शुक्रवार को देश को संबोधित करते हुए कहा कि संक्रमण से निपटने के लिए 27 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है।
  • युद्धग्रस्त यमन में शुक्रवार को कोरोना का पहला मामला सामने आया। कोरोना के लिए बनी राष्ट्रीय आपात समिति ने ट्वीट किया- हैड्राम प्रांत में कोरोना के पहले मामले की पुष्टि हुई। मरीज की हालत स्थिर है और उसका इलाज जारी है।
  • अर्मेनिया ने देश में आपातकाल और 30 दिन बढ़ा दिया है। यहां अब तक लगभग एक हजार लोग संक्रमित हो चुके हैं। देश में शैक्षणिक संस्थानों और सभी पब्लिक ट्रांसपोर्टों को बंद कर दिया गया है। साथ ही विदेशियों के देश में प्रवेश पर भी बैन लगा दिया गया है।

Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement

Trending

You May Also Like

जम्मू-कश्मीर

जम्मू (jammu) के नगरोटा में सुरक्षाबलों को बृहस्पतिवार सुबह बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। सुरक्षाबलों ने पाकिस्तान (pakistan) के चार आतंकियों (terrorist) को मार...

खबरीलाल

बिलासपुर / बिलासपुर मैग्नेटो मॉल में “आईना द पहचान” कार्यक्रम का आयोजन रखा गया है इस कार्क्रम का उद्देश्य गरीब और दिमागी तौर से...

उत्तरप्रदेश

उत्तर प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव (UP Assembly By-Election) में मिली करारी हार से बसपा सु्प्रीमो परेशान हैं। वहीं, दूसरी ओर राज्यसभा चुनाव में में...

क्राइम

उत्तर प्रदेश (uttar pradesh) के मेरठ (meerut) जिले में दो दिनों से लापता 18 साल के युवक का गर्दन कटा शव मेरठ-पौड़ी हाईवे (meerut-pauri...

दिल्ली

जब आप किसी कार्य में पूरे लगन के साथ लगते हैं तो उसमें हम सफल हो जाते हैं और उसका परीणाम भी शानदार होता...

उत्तरप्रदेश

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ (Pratapgarh) जिले में देररात बेहद दर्दनाक हादसा हो गया। एक तेज रफ्तार बुलेरो गाड़ी ट्रक में पीछे से घुस गई।...

दुनिया

PUBG सबसे लोकप्रिय मोबाइल गेम्स में से एक था। सरकार ने इस पर संप्रभुता और अखंडता, रक्षा और सुरक्षा के लिए पूर्वाग्रही गतिविधियों में...

उत्तरप्रदेश

हापुड़ जिले के गढ़मुक्तेश्वर में 25 से 30 नवंबर तक लॉकडाउन का आदेश दिया गया है। बता दें, गढ़मुक्तेश्वर में कार्तिक पूर्णिमा पर गंगा...

देश

देश में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए राज्यों ने एहतियात के तौर पर पाबंदियां लगानी शुरू कर दी है। पहले गुजरात के...

उत्तरप्रदेश

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा आयोग ( UPSSSC ) ने NTA की तर्ज पर प्रदेश में बड़ी परीक्षाएं कराने का मसौदा तैयार किया था, जिसे...

देश

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस (International Men’s Day) हर साल 19 नवंबर को मनाया जाता है। इस दिन को राष्ट्र, समाज, परिवार, समुदाय, विवाह और बच्चे...

मेरठ

मेरठ (Meerut) जिले के थाना गंगानगर स्तिथ आई ब्लॉक के पास शुक्रवार दोपहर गाय को लेकर पैदल जा रहे एक युवक को भीड़ (crowd)...

Advertisement
%d bloggers like this: