Connect with us

Hi, what are you looking for?

विशेष दिवस

Swami Vivekananda Jayanti: तुम अपनी अंत:स्थ आत्मा को छोड़ किसी और के सामने सिर मत झुकाओ…

Swami Vivekananda Jayanti: हिंदुस्तान को महात्मा, ज्ञानियों की भूमि कहा जाता है। अनेक महापुरूषों ने देश का नाम विश्वपटल पर चमकाया है। उन्हीं में से विशेष थे महापुरुष स्वामी विवेकानंद। स्वामी का जन्म आज ही के दिन 12 जनवरी 1863 को कोलकाता में हुआ था। उनके पिता विश्वनाथ दत्त कलकत्ता हाईकोर्ट के प्रसिद्ध वकील थे। स्वामी विवेकानंद से जुड़ी अनेक बातें, विशेष रूप से उनके द्वारा दिए गए अनमोल वचन, जो आज भी प्रसांगिक हैं।

Swami

शिकागो के धर्म सम्मेलन में अपने देश को चमकाया था

महज 39 साल का जीवन जीने वाले स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda Jayanti ) के जन्मदिवस (12 जनवरी) को देश में युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। 1893 में अमेरिका के शिकागो में विश्व धर्म सम्मेलन में दिया उनका भाषण आज भी किसी भारतीय के द्वारा दिए गए सबसे प्रभावी भाषणों में माना जाता है। अपने संबोधन में स्वामी विवेकानंद ने सांप्रदायिकता, धार्मिक कट्टरता और हिंसा का जिस तरह से उल्लेख किया था वह आज सवा सौ साल के बाद भी उतने ही भयावह रूप में उपस्थित हैं।

युवाओं के लिए स्वामी विवेकानंद का संदेश

स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda) जी का कहना था कि ‘अगर तुम खुद ही नेता के रूप में खड़े हो जाओगे, तो तुम्हें सहायता देने के लिए कोई भी आगे नहीं बढेगा. अगर सफल होना चाहते हो, तो पहले अहं का नाश करो.’ स्वामी विवोकानंद के विचारों ने युवाओं को काफी प्रेरित किया है. उनके कुछ अनमोल वचन यहां देखें..

  •  ‘उठो, जागो और तब तक रुको नहीं जब तक मंजिल प्राप्त न हो जाए’
  • ‘तुम अपनी अंत:स्थ आत्मा को छोड़ किसी और के सामने सिर मत झुकाओ. जब तक तुम यह अनुभव नहीं करते कि तुम स्वयं देवों के देव हो, तब तक तुम मुक्त नहीं हो सकते’
  • मैं चाहता हूं कि मेरे सब बच्चे, मैं जितना उन्नत बन सकता था, उससे सौगुना उन्न्त बनें. तुम लोगों में से प्रत्येक को महान शक्तिशाली बनना होगा- मैं कहता हूं, अवश्य बनना होगा.
  • जब तक आप स्वंय पर विश्वास नहीं कर पाते हैं तब तक आप भगवान पर भी विश्वास नहीं कर सकते हैं.
  • एक समय में एक ही काम को करना चाहिए. ऐसा करते समय उस काम में पूरी तरह से लीन रहना चाहिए, जिससे आसानी से आपको सफला मिल सकती है.
  • अगर धन किसी की मदद करने में इस्तेमाल किया जाता है तो ही इसका कोई मुल्य होता है. वरना यह सिर्फ बुराई का एक ढेर मात्र है, ऐसे में जितनी जल्दी इससे छुटकारा पा लिया जाए वह बेहतर होगा.
  • स्वंय को कमजोर समझना और कठिन परिस्थिति से लड़ने से पहले ही हार मान लेना पाप है.
  • जीवन का रहस्य भोग में नहीं बल्कि अनुभव से शिक्षा प्राप्त करने में है.

Signal Messaging App : क्या है सिग्नल एप, जिसे दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क चलाते हैं, जानें

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वामी विवेकानंद को याद किया

स्वामी विवेकानंद के जन्मदिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उन्हें श्रद्धांजलि दी है। प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर लिखा है कि ‘स्वामी विवेकानंद के महान आदर्शों और युवा सशक्तिकरण के लिए उनकी दृष्टि से प्रेरित, राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव भारत के युवाओं को अपने कौशल का प्रदर्शन करने के लिए एक मंच प्रदान करता है. यह युवाओं में ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की भावना को भी उभारता है।’

राष्ट्रीय युवा संसद समारोह का आयोजन

स्वामी विवेकानंद के जन्मदिवस के मौके पर राष्ट्रीय युवा संसद समारोह के कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट कर लिखा है कि ’12 जनवरी एक विशेष दिन है, हम सभी स्वामी विवेकानंद को श्रद्धांजलि देते हैं और राष्ट्रीय युवा दिवस को भारत की युवा शक्ति को श्रद्धांजलि के रूप में चिह्नित करते हैं. सुबह 10:30 बजे, राष्ट्रीय युवा संसद समारोह के कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।’

Khabreelal News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… हमारी कम्युनिटी ज्वाइन करे, पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें

Whatapp ग्रुप ज्वाइन करे Join
Youtube चैनल सब्सक्राइब करे Subscribe
Instagram पर फॉलो करे Follow
Faceboook Page फॉलो करे Follow
Tweeter पर फॉलो करे Follow
Telegram ग्रुप ज्वाइन करे Join
Click to comment

Leave a Reply

Facebook

You May Also Like

Advertisement
DMCA.com Protection Status
x
%d bloggers like this: