APP में पढ़ें
Whatsapp ग्रुप से जुड़ें
Connect with us

Hi, what are you looking for?

खबरीलाल

चीन में आई पीली तबाही, बीजिंग में धूल के तूफान से हाहाकार, 341 लापता, 400 उड़ानें रद्द

सोमवार को चीन अचानक से पीला पड़ गया। राजधानी बीजिंग में भयानक धूल भरी आंधी चली, पूरा शहर धूल में सन गया। इस धूल भरी आंधी का असर मंगोलिया और उत्तर पश्चिमी चीन के कई हिस्सों में रहा, यहां दिनभर तेज हवाएं चलती रहीं। धूल का बवंडर देखकर लोग दहशत में आ गए। बताया जा रहा है इस धूल के बवंडर से 341 लोग लापता हैं। उधर बीजिंग में 400 उड़ानों को रद्द कर दिया गया।

उत्तराखंड : अतुलनीय है बर्फ से ढका, शैल पर बसा तुंगनाथ मंदिर, वीडियो देखें

इस तूफान की वजह से ऊंची-ऊंची इमारतों से घिरे बीजिंग के लोगों का संकट बहुत बढ़ गया है। कुछ दूरी के बाद दिखाई नहीं दे रहा है। ट्रैफिक रेंग-रेंगकर चल रहा है। कई इलाकों में लाइट्स जलानी पडीं। सड़कों पर लोग हेडलाइटें जलाकर कार चला रहे थे, मास्क लगाया हुआ था। चेहरा ढंका हुआ था। बीजिंग में वायु गुणवत्ता स्तर 1000 पार कर गया. जिसे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने सबसे ज्यादा घातक बताया है। ये धूल भरी आंधी मंगोलिया के पठारों से उड़ी धूल की वजह से आई है।

जानकारी के मुताबिक आज बीजिंग में साल का सबसे खराब सैंडस्टॉर्म देखने को मिला है। चीन की मौसम विज्ञान एजेंसी ने इसे एक दशक में सबसे बड़ा सैंडस्टॉर्म कहा है। इस तूफान की वजह से यहां स्थिति काफी भयावह दिख रही है। बताया जा रहा है कि तेज हवाओं की वजह से गोबी के रेगिस्‍तान से यह आंधी उठी और चीन के ज्‍यादातर हिस्‍सों को धूल से भर दिया। इससे पहले रविवार को चीन के पड़ोसी देश मंगोलिया में भीषण आंधी आई थी। सिन्‍हुआ समाचार एजेंसी के मुताबिक इनर मंगोलिया की राजधानी होहहोत में कई उड़ानों को रद्द कर दिया गया है।

क्‍यों खतरनाक है रेतीला बवंडर….

गोबी मरुस्‍थल काफी विशाल और बंजर है जो पश्चिमोत्‍तर चीन से लेकर दक्षिणी मंगोलिया तक पसरा हुआ है। चीन के मौसम विभाग ने यलो अलर्ट जारी किया है और बताया है कि यह धूलभरी आंधी इनर मंगोलिया से लेकर चीन के गांसू, शांक्‍सी और हेबेई तक फैले हैं जो पेइचिंग के चारों स्थित है। धूलभरी आंधी की वजह से पेइचिंग के हवा की गुणवत्‍ता खतरनाक स्तर पर पहुंच गई है।

यहां सोमवार सुबह वायु गुणवत्ता सूचकांक 1000 तक पहुंच गया है। पीएम10 का स्‍तर कई जिलों में बहुत खतरनाक तरीके से बढ़ गया है। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के मुताबिक प्रतिदिन पीएम 10 का स्‍तर 50 माइक्रोग्राम से ज्‍यादा नहीं होना चाहिए। वास्‍तव में पीएम 2.5, फेफड़ों को नुकसान पहुंचाने वाले कणों का स्‍तर भी 300 माइक्रोग्राम के ऊपर पहुंच गया है। चीन में यह मानक 35 माइक्रोग्राम है। राजधानी पेइचिंग में साल के इस मौसम में ऐसी धूलभरी आंधी असामान्‍य नहीं है।

​जापान तक होगा असर

गोबी के मरुस्‍थल के पास होने और पश्चिमोत्‍तर चीन में वनों के क्षरण की वजह से बीजिंग का संकट काफी बढ़ गया है। बीजिंग के पड़ोसी शहरों से भी प्रदूषण यहां पर पहुंच रहा है। विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि चीन और मंगोलिया में उठे इस तूफान का असर अन्‍य पड़ोसी देशों पर भी पड़ सकता है। विशेषज्ञों का कहना है कि इस तूफान का असर जापान तक पड़ सकता है। उन्‍होंने कहा कि चीन अपने शहरों का लगातार विस्‍तार कर रहा है, इससे संकट बढ़ गया है।

Khabreelal News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… हमारी कम्युनिटी ज्वाइन करे, पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें

Whatapp ग्रुप ज्वाइन करेJoin
Youtube चैनल सब्सक्राइब करेSubscribe
Instagram पर फॉलो करेFollow
Faceboook Page फॉलो करेFollow
Tweeter पर फॉलो करेFollow
Telegram ग्रुप ज्वाइन करेJoin

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

और खबरें पढ़ें

खबरीलाल

बीते साल 15-16 जून में लद्दाख की गलवान घाटी में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर भारतीय सेना से हुई झड़प में चीन के...

देश

भारत-चीन के बीच तनातनी जारी है. इस बीच चीन ने अरुणाचल प्रदेश पर दावा किया है. चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजिन...

देश

भारत सरकार ने बुधवार को 118 ऐप्स को बैन कर दिया है। बुधवार शाम सरकार ने बयान जारी करते हुए कहा कि ये ऐप्स...

खबरीलाल

चीन के 23 साल के शख्स के दिमाग से 5 इंच का एक कीड़ा निकला है जो 17 साल से रह रहा था। 6...

खबरीलाल

चीन के सरकारी अख़बार ग्लोबल टाइम्स ने एक सर्वे कराया है. सर्वे में भारत-चीन के रिश्तों पर वहाँ के लोगों की रायशुमारी की गई...

Advertisement