मौसम विभाग ने दिया तीन दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट, जरूरी होने पर ही घरों से बाहर निकलें

मौसम विभाग ने तीन दिनों के लिए भारी बारिश की चेतावनी देते हुए यैलो अलर्ट जारी किया है। जिसमें कहा गया है कि अगले तीन दिनों तक उत्तराखंड में भारी बारिश रहेगी। जिससे लोगों को सावधानी बरतने की बात कही गई है। 
 | 
UP RAIN
अगर आप उत्तराखंड में घूमने जा रहे हैं तो यह खबर आपके काम की है। मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों के लिए प्रदेश में यैलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग का कहना है कि यहां भारी बारिश होगी, 7 सितंबर के बाद जाकर कही राहत मिलेगी। इसके अलावा आप मसूरी घूमने जा रहे हैँ तो आपको कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखाने पर ही एंट्री दी जाएगी। वहीं, देहरादून डीएम द्वारा बनाए गए गाइडलाइन का पालन करना ही होगा। 
भारतीय मौसम विभाग (India Meteorological Department) ने उत्तराखंड में 7 सितंबर तक भारी बारिश का येलो अलर्ट (Yellow alert in Uttrakhand) जारी किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार, सात के बाद बारिश में कुछ कमी आ सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक,शनिवार को देहरादून व नैनीताल जिलों में तेज बौछार के साथ भारी बारिश हो सकती है।

 

विभाग ने देहरादून (Dehradun), नैनीताल (Nanita) के साथ ही पर्वतीय जिलों के लिए 7 सितंबर तक येलो अलर्ट घोषित किया है। विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया है कि रविवार-सोमवार को टिहरी, पौड़ी, देहरादून, नैनीताल, चंपावत, बागेश्वर व पिथौरागढ़ जिलों में कहीं-कहीं तेज  तो कहीं, काफी तेज बारिश की संभावना बनी है।

 

मसूरी घूमने के लिए कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट जरूरी

 

मौसम विभाग ने उत्तराखंड में भारी बारिश की चेतावनी दी है। वहीं, कोरोना को देखते हुए जिलाधिकारी देहरादून ने गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराने के आदेश दिए है। प्रशासन का मानना है कि वीकेंड पर ज्यादा लोग मसूरी व आसपास घूमने आते हैं। ऐसे में मसूरी आने वाले पर्यटकों को कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी अनिवार्य होगी। रिपोर्ट 72 घंटे से ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए। जिलाधिकारी डॉ. आर राजेश कुमार (Dehradun DM Dr. R. Rajesh Kumar) ने गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराने के लिए पुलिस विभाग को पत्र लिखा है। पढ़ें - देहरादून : सुभारती अस्पताल ने किया रक्तदान शिविर का आयोजन, 27 लोगों ने किया ब्लड डोनेट।

 

बॉर्डर चेकपोस्ट पर बरते सख्ती

 

डीएम ने पत्र में आदेश दिया है कि बॉर्डर चेकपोस्ट पर सख्ती बरती जाए, साथ ही भीड़ वाले एरिया में सोशल डिस्टेंस तोड़ने और मास्क नहीं पहनने वालों के खिलाफ कार्रवाई को कहा गया है। एसएसपी डा. योगेंद्र सिंह रावत (SSP Dr. Yogendra Singh Rawat) ने बताया कि मसूरी (Mussoorie) जाने वालों की कुठालगेट और किमाड़ी मार्ग पर चेकिंग की जाएगी। यह भी पढ़ें - Tokyo Paralympics : भारत को शूटिंग में मिला सोना-चांदी, गौतम बुद्धनगर के डीएम भी फाइनल में पहुंचे, अब 15 मेडल हुए।

 

इसके लिए शनिवार और रविवार को बैरियर लगाए जाएंगे। वहीं आशारोड़ी समेत अन्य बॉर्डर पर भी सख्ती बढ़ा दी गई है। बाहरी राज्यों के वाहनों की सघन चेकिंग की जा रही है। बिना जांच कराए आने वालों को बॉर्डर पर एंटीजन जांच कराने पर ही प्रवेश दिया जा रहा है।

 

देश में फिर से बढ़ रहे कोरोना के मामले

 

कोरोना को लेकर विशेषज्ञों ने पहले ही चेतावनी दी हुई है। सितंबर-अक्टूबर में कोरोना की तीसरी लहर तय मानी जा रही है। क्योकि सितंबर शुरू होते ही कोरोना के मामलो में तेजी आने लगी है। कुछ दिनों के भीतर ही 42 हजार मरीज प्रतिदिन सामने आ रहे हैं। जिसमें सबसे ज्यादा मरीज केरल से हैं। अब केंद्र ने राज्य सरकारों को आदेश किया है कि वह कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराएं। हो सके तो अल्प लॉकडाउन या नाइट कर्फ्यू लागू सहित अन्य पाबंदियां भी लगा सकते हैं।  

devanant hospital

dr vinit new

पंजाब

ortho

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।