Porn Films देखने वाले सावधान, UP के 16 शहरों में CBI के छापे, जानें कौन है निशाने पर

 सूत्रों के मुताबिक CBI की टीम ने वाराणसी, सोनभद्र, मुगलसराय, बदायूं और पीलीभीत समेत कई शहरों में पोर्नोग्राफी (Porn Films) के रैकेट चलाए जा रहे हैं।

 | 
Porn Movies
 

सोशल मीडिया पर चाइल्ड पोर्नोग्राफी (Child Porn Video) का रैकेट को चलाने वालों की धरपकड़ के लिए देशभर के 14 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में 76 स्थानों पर CBI छापेमारी कर रही है। इसी क्रम में यूपी में भी CBI की टीम ने करीब 16 शहरों में छापेमारी कर धड़पकड़ कर रही है।


बताया जा रहा है कि CBI की टीम सोशल मीडिया के जरिये पोर्नोग्राफी का रैकेट (Uttar Pradesh Porn Movies) चला रहे लोगों की धरपकड़ कर रही है। सूत्रों के मुताबिक CBI की टीम ने वाराणसी, सोनभद्र, मुगलसराय, बदायूं और पीलीभीत समेत कई शहरों में पोर्नोग्राफी के रैकेट चलाए जा रहे हैं।


बता दें कि सीबीआई ने ऑनलाइन बाल यौन शोषण और शोषण से संबंधित 14 नवंबर 2021 को दर्ज हुए 83 आरोपियों के खिलाफ 23 अलग-अलग मामले दर्ज किए हैं।


बताया जा रहा है कि CBI ने यूपी के चंदौली में मुगलसराय में लाठ नंबर-2 निवासी सूरज कुमार समेत 4 आरोपियों गिरफ्तार किया। बताया जा रहा है कि ये लोग Whatsapp के जरिये अश्लील फिल्म (Porn Films Whatsapp Group) लोगों को भेजते थे। सूरज के पास से सीबीआई टीम ने एक मोबाइल फोन बरामद किया। जिसमें ऐसे व्हाट्सएप ग्रुप थे, जिसने अश्लील फिल्म (Whatsapp Group For Porn Movies) का कारोबार चल रहा था।


टीम में शामिल सीबीआई के इंस्पेक्टर हेमंत राय के मुताबिक छापेमारी कहां होनी है इसके दिशा-निर्देश अधिकारियों की तरफ से जारी किए हैं। गिरफ्तारी व कार्रवाई को लेकर अभी कुछ भी बताना जल्दबाजी होगा। इसके साथ ही आगरा, मुरादाबाद व बरेली जोन में भी छापेमारी की जा रही है।


व्हाट्सएप पर पोर्नोग्राफी का चल रहा धंधा (WhatsApp Porn Film)

व्हाट्सएप ग्रुप पर पोर्नोग्राफी का कारोबार उत्तर प्रदेश के कई शहरों में चल रहा है। इसमें पोर्न मूवी के साथ वायरल अश्लील वीडियो और लोकल लेवल पर बनी सी ग्रेड फिल्में (Local Porn movies) whatsapp पर शेयर करते हैं। 


स्थानीय लेवल पर चल रहा ऑनलाइन पोर्न फिल्मों का खेल

रिपोर्ट्स के मुताबिक जांच में सामने आया है कि ग्रामीण इलाकों के युवा व्हाट्सएप ग्रुप के जरिये पोर्न फिल्म देख (Watch Online Porn Video) रहे हैं। इन ग्रुप के संचालक पोर्न फिल्मों के बदले बाकायदा युवाओं से पैसा वसूल रहे है। दरअसल सरकार ने लाखों पोर्न साइट्स (Porn Website in India) को देश में बैन कर दिया है, जिसके बाद इन लोगों ने व्हाट्सएप्प और टेलीग्राम पर पोर्न फिल्मों (Porn Movies Telegram Link) का कारोबार शुरू कर दिया।


सोनभद्र का राजू, वाराणसी का श्याम और चंदौली का सूरज इसी तरह पोर्न साइट से फिल्म लेकर ग्रुप पर अपलोड कर एक अश्लील फिल्म का प्लेटफार्म (Porn Website) चला रहे थे। इनके साथियों के बारे में पूछताछ की जा रही है।


सोनभद्र के सिंचाई इंजीनियर के साथियों की तलाश

बता दें कि सितंबर 2020 में उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के अनपरा निवास इंजीनियर नीरज यादव को पुलिस ने इंस्टाग्राम पर चाइल्ड पोर्नोग्राफी रैकेट चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया था। यह मामला सामने आने के बाद स्थानीय व केद्रीय पुलिस एजेंसियां सक्रिय हो गई। जांच में सामने आया कि पहले नीरज यादव सोशल मीडिया पर पोर्न फिल्म लोगों को उपलब्ध कराता था, लेकिन जब उसका यह काम चल निकला तो वह मासूम बच्चों का यौन शोषण कर खुद पोर्न फिल्म बनाने लगा था।

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।