मेरठ : फर्जी इंटेलिजेंस अफसर ने मांगे 3 करोड़ रुपए-बोला-'पैसे नहीं दिए तो तुम्हें बर्बाद कर दूंगा', अभी रुपया लेकर गेट के बाहर आ जाओ

फर्जी इंटेलिजेंस का अधिकारी बनकर एक युवक ने आईआईएमटी यूनिवर्सिटी मेरठ के कुलाधिपति योगेश मोहन गुप्ता से तीन करोड़ रुपये की मांग की। रुपये मांगने वाले ने धमकी भी दी कि यदि रुपये नहीं दिये तो देख लेना, में तुम्हे बर्बाद कर दूंगा।
 | 
IIMT
फर्जी अधिकारी बनकर एक युवक ने आईआईएमटी यूनिवर्सिटी मेरठ के कुलाधिपति योगेश मोहन गुप्ता से तीन करोड़ रुपये की मांग की। रुपये मांगने वाले ने धमकी भी दी कि यदि रुपये नहीं दिये तो देख लो, वह तुम्हे बर्बाद कर देगा। धमकी के बाद योगेश मोहन गुप्ता ने सोमवार को सिविल लाइन थाने में शिकायत दर्ज करायीहै। पुलिस से सुरक्षा भी मांगी गई है। एसएसपी ने पूरे मामले की जांच बिठा दी है।Read Also:-काम की खबर : यूपी बोर्ड परीक्षा 2023 होने में सिर्फ 10 दिन, कब, कहां और कैसे मिलेगा एडमिट कार्ड? हो गई घोषणा....

 

कुलाधिपति योगेश मोहन गुप्ता ने बताया कि रात 11 बजे उनके पास एक नंबर से फोन आया। इसमें एक शख्स ने कहा कि मैं एक खुफिया अधिकारी के बोल रहा हूं। मैं आपके घर के बाहर खड़ा हूं। मुझे तुरंत 3 करोड़ रुपए दे दो। पैसा नहीं दिया तो सोचो मैं क्या कर सकता हूं।

 

फोन करने वाले ने खुद को एक खुफिया अधिकारी के रूप में पेश किया। यह भी कहा गया कि अगर अभी पैसे नहीं दिए तो सुबह देखना तुम्हारा क्या होगा। मैं टीम को आपके घर लाकर छापा मारूंगा, फिर बड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसलिए अभी रूपये लेकर गेट के बाहर आ जाओ।

 

पुलिस के मुताबिक यह लेन-देन को लेकर पुराना विवाद है, जिसकी जांच की जा रही है। वहीं योगेश मोहन गुप्ता ने बताया कि 12 साल पहले एक बिल्डर ने उनके यहां काम करने का ठेका लिया था। ठेके की राशि लेने के बाद बिल्डर आधा काम करके भाग गया। बाद में योगेश गुप्ता की ओर से आर्बिटेशन के लिए आवेदन किया।

 

हमें आर्बिटेशन के निर्णय में 39 लाख रुपये मिलने थे। कोर्ट ने हमारे पक्ष में फैसला दिया। जब उन्हें लगा कि वह न्यायिक तरीके से हमसे पैसे नहीं ले सकते तो उन्होंने अधिकारी बनकर हमसे पैसे मांगे। वह ये फर्जी कॉल कर रहा है।

 

पुलिस ने मामले की जांच शुरू की
फोन पर पैसे मांगने और धमकी देने के बाद योगेश मोहन गुप्ता ने पुलिस से संपर्क किया और पुलिस को शिकायत दी है। पुलिस ने तहरीर के आधार पर मामले की जांच शुरू कर दी है।

 

एसएसपी रोहित सिंह सजवान का कहना है कि उनके पास से तहरीर मिली है कि एक व्यक्ति ने पैसे मांगे हैं। यह आपसी लेन-देन का मामला है, मामला दर्ज कर जांच की जा रही है। अधिकारी बनकर धमकी देने वाले की जांच की जा रही है।

 

sonu

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।