Meerut: बाल दिवस पर धरने पर बैठे 15 स्कूलों में पढ़ने वाले 45 कॉलोनियों के बच्चे, ताकि शहर के नेता-अफसर सुनें उनकी मांग

 दरअसल इन 45 कॉलोनियों के लोग पिछले 20 साल से 800 मीटर लंबा बागपत रेलवे लिंक मार्ग बनाने की मांग कर रहे हैं। ताकि उन्हें बागपत रोड से रेलवे रोड तक जाने में लंबी दूरी न तय करनी पड़े।

 | 
Meerut dharna
Meerut Protest For Bagpat Railway Road Link Road: बाल दिवस (Childrens Day) पर जहां पूरे देश में बच्चों के सम्मान के लिए कार्यक्रम होते हैं, वहीं उत्तर प्रदेश के मेरठ में इस खास दिन पर 15 स्कूलों में पढ़ने वाले लगभग 45 कॉलोनियों बच्चों को एक सड़क निर्माण की मांग के लिए धरने पर बैठना पड़ा। इन बच्चों के साथ इनके परिजन भी धरने पर बैठे रहे। बच्चों को कहना था कि न तो क्षेत्र के जनप्रतिनिधि उनकी मांगों पर ध्यान दे रहे हैं और न ही अफसर। ऐसे में अपनी मांग को लेकर सरकार का ध्यान आकर्षित कराने के लिए उन्हें खुद धरने पर बैठना पड़ा। इसके साथ ही यह भी तय हुआ कि जब तक सड़क निर्माण का काम शुरू नहीं होगा हर सप्ताह रविवार को एक कॉलोनी के लोग प्रदर्शन करेंगे।

 

20 साल पुरानी है मांग

दरअसल इन 45 कॉलोनियों के लोग पिछले 20 साल से 800 मीटर लंबा बागपत रेलवे लिंक मार्ग बनाने की मांग कर रहे हैं। जनांदोलन समिति के अध्यक्ष सरदार राजेन्द्र सिंह ने बताया कि वे सांसद, विधायकों से लेकर अफसरों तक से अपनी मांग बता चुके हैं, लेकिन हर बार उन्हें आश्वासन दिया जाता है। सड़क निर्माण की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है। Read Also : BJP विधायक ने कार्यकर्ताओं से कहा अगर TMC नेता तुम्हें डराएं तो उनके हाथ-पैर तोड़ दो

 

800 मीटर लंबी लिंक रोड बनाने की है मांग

उन्होंने बताया कि बागपत रोड से रेलवे रोड जाने के लिए अभी लंबा समय तय करना पड़ा है, शहर में रैपिड रेल का काम शुरू होने के बाद बागपत रोड व इससे सटी कालोनियों के रास्ते पर पर ट्रैफिक और ज्यादा बढ़ गया है। ऐसे में क्षेत्र में सुबह से लेकर शाम तक यातायात व्यवस्था बेपटरी रहती है। कैंट क्षेत्र में स्थित स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को आने-जाने में ही कई घंटे का समय बर्बाद हो जा रहा है। जबकि यदि बागपत रोड से रेलवे रोड तक 800 मीटर लंबी लिंक रोड बन जाएगी तो यह सफर कुछ ही मिनटों में पूरा हो जाएगा और यातायात व्यवस्था भी दुरुस्त होगी, लेकिन अफसर सुनने को तैयार ही नहीं है।

 

हर सप्ताह होगा प्रदर्शन

सरदार राजेन्द्र सिंह के मुताबिक वे लोग लंबे समय से यह मांग उठा रहे हैं, लेकिन शासन प्रशासन को फर्क नहीं पड़ रहा है, इसीलिए अब 15 स्कूलों में पढ़ने वाले लगभग 45 कॉलोनियों के बच्चों ने भी इस आंदोलन में शामिल होने का फैसला किया है। इसी के चलते रविवार को कमलानगर और दशमेश नगर में धरना देकर अपनी मांग उठाई गई है। अब हर सप्ताह रविवार को एक कॉलोनी के लोग अपनी मांग को लेकर प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने बताया कि जब तक हमारी मांग पूरी नहीं होगी तब तक हम आवाज उठाते रहेंगे।

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।