सहमति से बालिग लड़की के साथ SEX करना अपराध नहीं, लेकिन भारतीय समाज में यह अनैतिक : हाईकोर्ट

इलाहबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने मामले की सुनवाई करते समय कहा कि ब्वॉय फ्रेंड का यह कर्तव्य होता है कि वह प्रेमिका के मान मार्यादा और सम्मान की रक्षा करे।

 | 
Allahbad highcourt
बालिग लड़की की समति से उसके साथ Sex करना अपराध नहीं है, लेकिन यह असैद्धांतिक, अनैतिक और भारतीय सामाजिक मूल्यों के खिलाफ है। यह टिप्प्णी इलाहबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने सामूहिक दुष्कर्म के मामले की सुनवाई करते समय कही। कोर्ट ने कहा कि ब्वॉय फ्रेंड का यह कर्तव्य होता है कि वह प्रेमिका के मान मार्यादा और सम्मान की रक्षा करे। कोर्ट ने आरोपी प्रेमी को जमानत देने से यह कहते हुए इनकार कर दिया कि वह ब्वॉय फ्रेंड कहलाने के लायक ही नहीं है। 

 

whatsapp gif

कोर्ट ने कहा कि याची का आचरण निंदनीय है। न्यायमूर्ति राहुल चतुर्वेदी ने कहा कि कुछ वहशी दरिंदे याची की प्रेमिका से उसके सामने सामूहिक दुष्कर्म करते रहे, प्रेमिका का शरीर और आत्मा वहशी गिद्धों से नुचती रही, लेकिन उसके प्रेमी ने मात्र विरोध तक नहीं किया। ऐसे में यह नहीं कहा जा सकता है कि उसका आरोपियों से कोई लेना देना नहीं है। लड़की के ब्वाय फ्रेंड का कर्तव्य था कि वह सह अभियुक्तों से प्रेमिका का गैंग रेप होने से रक्षा करता। वह ब्वॉय फ्रेंड कहलाने के लायक नहीं है। Read Also : मनोरंजन के लिए सेक्स नहीं करती भारत की लड़कियां, प्रेमी की जमानत खारिज करते हुए हाईकोर्ट ने कहा

 

news shorts

दरअसल 20 फरवरी को कौशांबी के अकिल सराय थाने में चार आरोपियों पर पॉक्सो एक्ट व आईपीसी की धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई थी। पीड़िता का आरोप था कि 19 फरवरी को उसने ब्वॉयफ्रेड राजू से फोन कर मिलने की इच्छा जाहिर की थी। कुछ देर बाद वे दोनों नदी किनारे मिलने पहुंचे थे, लेकिन थोड़ी देर बाद ही वहां तीन लोग और पहुंच गए। आरोप है कि उन्होंने राजू को मारा-पीटा और उसका फोन छीन लिया। इसके बाद तीनों आरोपियों ने बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़िता का आरोप था कि यह वे नदी किनारे मिल रहे हैं इस बात की जानकारी सिर्फ राजू को थी। इस पर कोर्ट ने राजू को जमानत देने से इनकार कर दिया और कहा कि राजू का अभियुक्तों से कोई संबंध नहीं है यह निश्चित तौर पर नहीं कहा जा सकता है। उसके अपराध में शामिल होने की पूरी संभावना है।  यह भी पढ़ें : शादी के वादे पर किया गया सेक्स दुष्कर्म है, इलाहबाद हाईकोर्ट ने कहा- महिलाएं भोग विलास की वस्तु नहीं, इस पर कानून बनाएं

 

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।