संपत्ति हस्तांतरण स्टांप शुल्क : अब रिश्तेदारों को संपत्ति ट्रांसफर करते समय नहीं देनी होगी स्टांप ड्यूटी! इस राज्य ने बदले नियम

नियमों में बदलाव के बाद आपको 7 फीसदी स्टांप ड्यूटी नहीं देनी होगी। अब 6 महीने तक रक्त संबंधियों (Blood Relatives) के नाम प्रॉपर्टी ट्रांसफर करने पर भारी स्टांप ड्यूटी का भुगतान नहीं करना होगा। 
 | 
PROPERTY TRANSFER
उत्तर प्रदेश में प्रॉपर्टी ट्रांसफर स्टांप ड्यूटी: अब उत्तर प्रदेश में रिश्तेदारों के नाम प्रॉपर्टी ट्रांसफर करने पर आपको भारी स्टांप ड्यूटी नहीं देनी होगी। फिलहाल राज्य सरकार ने स्टांप ड्यूटी में छूट का ऐलान किया है। इसके मुताबिक अब अगर संपत्ति रिश्तेदारों के नाम ट्रांसफर की जाती है तो उसके लिए काफी कम स्टांप ड्यूटी देनी होगी। हालांकि शुरुआत में यह छूट सिर्फ 6 महीने के लिए दी गई है। गौरतलब है कि इस संबंध में राज्य सरकार की सिफारिश पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने अधिसूचना जारी की थी। 

 

कितनी स्टांप ड्यूटी देनी होगी
आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल की प्रधान सचिव वीणा कुमारी ने इसे लेकर जनादेश जारी किया था। इसके अनुसार राज्य के निवासी अपने रक्त संबंधी के नाम पर संपत्ति का हस्तांतरण कर सकते हैं। ऐसा करने पर मात्र 5000 रुपये की स्टांप ड्यूटी देनी होगी। इससे लोग अगले 6 महीने तक इस छूट का फायदा उठा सकते हैं।

 

प्रदेश के लाखों लोगों को राहत
वहीं, पंजीकरण विभाग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार योगी सरकार के इस कदम से राज्य के लाखों लोगों को लाभ होगा। दरअसल, अब तक लोग अपने रक्त संबंधियों को संपत्ति हस्तांतरित करने के लिए 6% स्टांप शुल्क का भुगतान कर रहे थे। यानी अगर किसी के पास एक करोड़ की संपत्ति है तो उसे अपने रिश्तेदारों को ट्रांसफर करने के लिए स्टांप ड्यूटी के तौर पर 6 लाख रुपये देने पड़ते थे। ऐसे में कई लोग चाहकर भी अपनी संपत्ति रिश्तेदार के नाम ट्रांसफर नहीं कर पा रहे थे। लेकिन राज्य सरकार द्वारा स्टांप ड्यूटी पर दी गई छूट से कई लोगों को राहत मिली है। 

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।