स्कूटी की Rs2500 की क़िस्त बकाया बताकर करोड़पतियों के बेटों का अपहरण, स्पीड ब्रेकर आया तो कूदकर भागे दोनों स्टूडेंट्स

 | 
kidnap

मध्यप्रदेश के इंदौर में स्कूटी की 2500 रुपये की क़िस्त बकाया बताते हुए करोड़पतियों के बेटों का दिनदहाड़े अपहरण करने की कोशिश की गई। बताया जा रहा है कि खुद को बजाज फाइनेंस कंपनी का रिकवरी एजेंट बता रहे 3 युवकों ने दोनों छात्रों को चंदन नगर में पकड़ लिया और उनकी स्कूटी समेत किडनैप कर ले जाने लगे, लेकिन दोनों छात्र चलती गाड़ी से कूदकर भाग निकले।

पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। तीनों आरोपी बजाज फाइनेंस कंपनी में रिकवरी एजेंट हैं और नौकरी के पहले दिन पर ही उन्होंने ये हरकत कर दी। उधर जांच में पता चला है कि जिस स्कूटी पर लोन बकाया बताकर स्टूडेंट्स को किडनैप किया जा रहा था उसपर कोई कंपनी से लोन लिया ही नहीं। तीनों आरोपियों का कहना है कि एक्टिवा की गलत पहचान के चलते इन्होंने स्टूडेंट को पकड़ लिया,हालांकि पुलिस को आरोपियों की सफाई में संदेह नजर आ रहा है। तीनों आरोपियों के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज किया गया है।

पुलिस ने बताया कि गाड़ी मालिक का भांजा निखिल सोनी अपने दो दोस्तों के साथ पोहा खाने चंदननगर गया था। यहां बजाज फाइनेंस कंपनी के तीन कर्मचारी आए और तीनों दोस्तों (निखिल सोनी, राम ठाकुर और अजान खान) को पकड़ लिया। इस दौरान तीनों को जबरन गाड़ी पर बिठाया और ले जाने लगे।

स्पीड ब्रेकर आया तो कूदकर भागे

इस दौरान राम ठाकुर वहां से भाग गया, जबकि निखिल और अजान खान को गाड़ी वे तीनों स्कूटी पर बिठाकर ले गए, हालांकि चंदन नगर में ही स्पीड ब्रेकर पर गाड़ी के स्लो होते ही ये दोनों भी कूदकर भाग गए। गाड़ी से कूदकर भागे निखिल और अजान शहर के करोड़पति प्रॉपर्टी डीलर और प्लाईवुड व्यापारी के पुत्र हैं। गाड़ी सचिन सोनी के नाम पर है, जिसका भांजा निखिल (MP09UV2123) गाड़ी लेकर गया था।

छात्रों ने कहा- आरोपियों ने मारपीट भी की

चंदननगर पुलिस के अनुसार घटना गुरुवार दोपहर 1:00 बजे की बताई जा रही है। पोहा खाकर एक्टिवा से निखिल, अजान और राम, चंदन नगर इलाके से घर जा रहे थे, तभी एक अस्पताल के पास फाइनेंस कंपनी के तीन रिकवरी एजेंटों ने तीनों को रोका। फिर उन्हें एक्टिवा से उतारा और उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। मौका मिलते ही एक छात्र मौके से फरार हो गया, जिसके बाद दो आरोपियों ने एक छात्र को अपनी बाइक पर बिठाया और तीसरा आरोपी एक्टिवा चला रहे छात्र के पीछे बैठ गया और चुपचाप शहर में दूसरी जगह जाने की बात कही। इस दौरान मौका मिलते ही दोनों छात्रों ने गाड़ी से छलांग लगा दी और भागकर घर पहुंचे और परिजन को पूरी घटना बताई।

देर रात दोनों छात्र परिजन के साथ थाने पहुंचे और FIR दर्ज कराई। कार्रवाई करते हुए चंदननगर पुलिस ने देर रात रोहित गोहर, सिद्धार्थ सिसोदिया और मोहित नाम के तीन आरोपियों को हिरासत में लिया। तीनों आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।