APP में पढ़ें
Whatsapp ग्रुप से जुड़ें
Connect with us

Hi, what are you looking for?

इंदौर

बेमिसाल ‘प्रतिभा’ : बेटे को जन्म देने से एक दिन पहले तक Nigam Commissioner ने नहीं ली छुट्टी

एक सामान्य व्यक्ति से लेकर आईएएस अधिकारी (IAS Officer) तक नई मिशाल पेश कर रहे हैं। आप अक्सर अधिकारियों के नए विचारों के किस्से सुनते रहते होंगे। आज एक ऐसा ही मामला हम आपको बता रहे है। जैसा कि आपको पता है कोरोना के समय पूरे देश में जगह-जगह हॉटस्पाट बने हुए थे।

मध्यप्रदेश के इंदौर प्रदेश में कोरोना महामारी का हॉट स्पॉट था। यहां जब हर कोई घर से काम करने और बाहर आने से डर रहा था, ऐसे में इंदौर नगर निगम की कमिश्नर प्रतिभा पाल ने बेटे को जन्म देने के एक दिन पहले तक कोई छुट्‌टी नहीं ली। जिसको लेकर उनकी खूब प्रशंसा हो रही है।

कोरोना महामारी में 9 महीने पहले संभाला था काम

पिछले वर्ष 5 मई को (ठीक नौ महीने पहले) आईएएस प्रतिभा पाल (IAS Officer Pirtibha pal) ने इंदौर कमिश्नर का चार्ज लिया था। इससे पहले वे श्योपुर की कलेक्टर थीं। आशीष सिंह का तबादला उज्जैन हुआ तो लोगों को लगा कि शायद अब स्वच्छता का सिरमौर रहे इंदौर की सफाई व्यवस्था पर कुछ असर पड़ेगा। परंतु नई निगम कमिश्नर ने इंदौर के स्वच्छता मिशन को ऐसे संभाला कि ना तो छुट्टी ली न तो काम में कोई कसर छोड़ी।

Success Story : एक और दशरथ मांझी! पत्नी को पानी भरने बहुत दूर जाना पड़ता था, पति ने 31 फीट गहरा कुआं खोद डाला।

सोमवार को जब उन्होंने स्थानीय बॉम्बे हास्पिटल में जब एक बेटे को जन्म दिया तब लोगों निगम कमिश्नर प्रतिभा पाल के बारे में पता चला कोरोना काल में जब हर कोई घर से बाहर निकलने में डर रहा था। ‘वर्क फ्रॉम होम’ का चलन रहा, प्रतिभा फील्ड में पहुंचती रहीं। इस बीच वीआईपी मूवमेंट हो, वार्डों का दौरा या रिमूवल की बड़ी कार्रवाई, प्रतिभा (IAS Officer Pirtibha pal) हर जगह मौजूद रहीं। उनकी यह मौजूदगी न केवल अन्य अफसरों से अलग बनाती है बल्कि आदर्श भी प्रस्तुत करती हैं।





रुचिवर्धन मिश्र, सौम्या पांडे की भी हुई थी तारीफ

इंदौर की एएसपी रुचिवर्धन मिश्र 2019 में दो साल की बेटी को खुड़ैल थाने पहुंची थी। इसी तरह अक्टूबर 2020 में मोदीनगर की एसडीएम सौम्या पांडे 24 दिन की बेटी को गोद में लेकर आफिस पहुंची थीं।

कार्य के प्रति उनका समर्पण प्रशंसनीय : बुच

मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्य सचिव निर्मला बुच ने कहा कि शासकीय सेवा में अनेक सुविधाएं रहती हैं। यहां काम करने वाले अधिकारी-कर्मचारी अपनी सुविधा के अनुसार या अपनी जरूरत के अनुसार अवकाश लेते या नहीं हैं। इंदौर नगर निगम कमिश्नर ने प्रेग्नेंसी के दौरान भी पूरे समय काम किया।

यह उनकी खुद की पसंद थी। कार्य के प्रति ऐसे समपर्ण की प्रशंसा की जानी चाहिए। जो अलग हटकर काम करते हैं वे आगे जाते हैं। मैं उनके काम की प्रशंसा करती हूं और यह भी उम्मीद करती हूं कि वे अपने बच्चे की अच्छे ढंग से देखभाल भी करें।

Khabreelal News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… हमारी कम्युनिटी ज्वाइन करे, पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें।

Whatapp ग्रुप ज्वाइन करे Join
Youtube चैनल सब्सक्राइब करे Subscribe
Instagram पर फॉलो करे Follow
Faceboook Page फॉलो करे Follow
Tweeter पर फॉलो करे Follow
Telegram ग्रुप ज्वाइन करे Join


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

और खबरें पढ़ें

मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश सरकार में चिकित्सा शिक्षा मत्री विश्वास सारंग ने पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू पर बड़ा खुलासा करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने...

मेरठ

उत्तर प्रदेश कैडर के 4 आईएएस अधिकारियों को केंद्र में सचिव पद पर नियुक्त किया गया है। ये सभी अधिकारी विशेष पहचान रखने वाले...

मध्यप्रदेश

गौहत्या का आरोप लगाकर एक परिवार का समाज से बहिष्कार कर दिया गया। अब इसी परिवार की लड़की ने गांव के शास्त्री द्वारा की...

Business

Quis autem vel eum iure reprehenderit qui in ea voluptate velit esse quam nihil molestiae consequatur, vel illum qui.

Business

Lorem ipsum dolor sit amet, consectetur adipisicing elit, sed do eiusmod tempor incididunt ut labore et dolore magna aliqua.

Advertisement https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js
https://click.nativclick.com/loading/?handle=7145