Connect with us

Hi, what are you looking for?

दुनिया

Ladakh : -40 डिग्री सेल्सियस तापमान भी रहेगा बेअसर, चीन के सामने डटे हमारे सैनिकों के लिए लद्दाख में बनाए गए आधुनिक घर

लद्दाख में सीमा पर तैनात जवानों के लिए सेना ने सेना ने हाउसिंग फेसिलिटी तैयार की है। इसके बाद सैनिकों को माइनस 50 डिग्री सेल्सियस में भी मुश्किलों से नहीं जूझना पड़ेगा।

लद्दाख में सैनिको के लिये बनाये गए आधुनिक घर।

लद्दाख में चीन से टकराव में कमी नहीं हो रही है। वहीं, सर्दियों में तापमान में भारी गिरावट को देखते हुए भारतीय सेना ने यहां तैनात हजारों सैनिकों के लिए आधुनिक आवास की व्यवस्था की है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी है। चीन के किसी भी दुस्साहस को रोकने के लिए हमारे हजारों सैनिक लद्दाख में तैनात हैं।

40 फीट तक होती है बर्फबारी

भारतीय सैनिक जिन इलाकों में तैनात हैं उनमें से कुछ जगहों पर तापमान -40 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है। इसके अलावा अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में 30 से 40 फीट तक बर्फबारी हो सकती है। अधिकारियों ने बताया कि ”सालों से यहां बनाए जा रहे समुचित व्यवस्थाओं वाले स्मार्ट कैंप्स के अलावा आधुनिक आवासीय प्रबंध भी किए गए हैं, जिनमें बिजली, पानी, हिटिंग फैसिलिटी, हेल्थ और हाइजीन का अच्छा ध्यान रखा गया है। सैनिकों को किसी चीज का अभाव नहीं है और वे किसी भी चुनौती के लिए तैयार हैं।”

LOC से जारी हुए फ़ोटो

एलओसी से बुधवार को कुछ फ़ोटो जारी किए गए । जिनमें सेना की ओर से बनाए गए इन्फ्रास्ट्रक्चर दिख रहे हैं। इन्हें अंग्रिम पंक्ति में तैनात सैनिकों की मदद के लिए बनाए गए हैं। सीमा पर तनाव को कम करने के लिए भारत और चीन में सैन्य कमांडर्स स्तर की कई दौर की बातचीत हो चुकी है, लेकिन जमीन पर अभी कोई बदलाव नहीं आया है।

अमेरिका से एक्सटेंडेंट वेदर क्लोदिंग सिस्टम आयात किए गए

एक अन्य अधिकारी ने कहा, ”सामरिक तैनाती के मुताबिक अग्रिम पंक्ति के सैनिकों की व्यवस्था गर्म टेंट्स में भी की गई है। आपातकाल के लिए पर्याप्त नागरिक ढांचाओं को भी चिह्नित किया गया है।” एलओसी पर तैनात सैनिकों को लॉजिस्टिक्स सपोर्ट उपलब्ध कराने के लिए भारत ने काफी प्रयास किए हैं। इनमें अमेरिका से गर्म कपड़े मंगाना भी शामिल है। भारत ने अमेरिका से 15 हजार से अधिक एक्सटेंडेंट वेदर क्लोदिंग सिस्टम आयात किए हैं।

कई वार्ता रहीं है बेअसर

भारतीय सेना और पीएलए के बीच एलओसी पर टकराव वाले स्थानों से तनाव कम करने के लिए आठ दौर की बातचीत हो चुकी है। पिछली बार 6 नवंबर को हुई बातचीत में दोनों पक्षों ने कहा कि वे यह सुनिश्चित करेंगे कि अग्रिम पंक्ति के सैनिक संयम बनाए रखें और गलतफहमी और गलत आकलन से बचें। उन्होंने जल्द ही कॉर्प्स कमांडर स्तर पर नौवें दौर की बातचीत पर भी सहमति जताई, लेकिन इसके लिए कोई तारीख नहीं निर्धारित की गई है।

Khabreelal News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Khabreelal न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Khabreelal फेसबुक पेज लाइक करें 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement

और खबरें पढ़ें

दुनिया

बीते साल 15-16 जून में लद्दाख की गलवान घाटी में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर भारतीय सेना से हुई झड़प में चीन के...

दुनिया

LaC : सीमा पर चीन के सैनिकों ने फिर से भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश की। जिसमें हमारे जवानों ने मुहतोड़ जवाब देते...

मनोरंजन

मोबाइल गेम FAU-G Google Play स्टोर पर आ गया है। हालांकि अभी गेम लॉन्च नहीं हुआ है, लेकिन लांच की कई तारीख के बाद...

जम्मू-कश्मीर

आतंकियों (terrorist) को घुसपैठ कराने में लगे पाकिस्तान को करारा जवाब देने के लिए भारतीय सेना (Indian army) द्वारा गुलाम कश्‍मीर में कई आतंकी...

देश

LOC : दिवाली (Diwali) के मौके पर भी पाकिस्तान (Pakistan) ने कायराना हरकत दिखानी कम नहीं की। शुक्रवार को एलओसी (LOC) के पास अलग-अलग...

देश

सेना ने शुक्रवार सुबह कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर में नियंत्रण रेखा से सटे आतंकी लॉन्च पैड और ठिकानों पर जमकर गोलाबारी की। ये वही...

Advertisement
DMCA.com Protection Status