Connect with us

Hi, what are you looking for?

हरियाणा

हरियाणा : संकट में खट्टर सरकार, सहयोगी पार्टी ने दिया अल्टीमेटम, कांग्रेस लाएगी अविश्वास प्रस्ताव

कांग्रेस हरियाणा विधानसभा में बीजेपी-जेजेपी गठबंधन सरकार के खिलाफ बुधवार को अविश्वास प्रस्ताव लाएगी और इसके मद्देनजर पक्ष एवं विपक्ष दोनों ने अपने-अपने सदस्यों को सदन में अनिवार्य रूप से उपस्थित रहने के लिए व्हिप जारी किया है। हरियाणा सरकार के मंत्री एवं बीजेपी के मुख्य सचेतक कंवर पाल ने कहा, “हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र के दौरान भारतीय जनता विधायक दल के सभी सदस्यों से 10 मार्च को सदन में लगातार उपस्थित रहने का अनुरोध किया जाता है।”

व्हिप जारी करते हुए उन्होंने कहा, “नेतृत्व की अनुमति के बिना वह सदन से बाहर न जाएं। चर्चा के दौरान कई महत्वपूर्ण मामलों पर चर्चा होगी। सदस्यों से अनुरोध है कि वे मतविभाजन और मतदान के समय उपस्थित रहें।” बीजेपी के सहयोगी दल जेजेपी ने भी अपने विधायकों को व्हिप जारी किया है।

कांग्रेस ने वरिष्ठ नेता एवं मुख्य सचेतक बी बी बत्रा ने कहा कि कांग्रेस विधायक दल, हरियाणा के सदस्यों को सूचित किया जाता है कि सदन में सरकार के विरुद्ध 10 मार्च को अविश्वास प्रस्ताव लाया जाएगा। उन्होंने कहा, “मैं व्हिप जारी करता हूं कि आप अनिवार्य रूप से 10 मार्च को सुबह 10 बजे सदन में अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करें और अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान का समर्थन करें। सदस्यों से अनुरोध है कि वे सीएलपी नेता से अनुमति लिए बिना सदन से बाहर न जाएं।”

कांग्रेस का दावा, विधायकों के बीच असंतोष के स्वर

कांग्रेस ने यह दावा किया है सरकार का समर्थन करने वाले विधायकों के बीच ‘‘असंतोष के स्वर’’ सुनाई दे रहे हैं। उसने विधानसभा के बजट सत्र में राज्य सरकार के खिलाफ प्रस्ताव लाने का पिछले महीने फैसला किया। शुरुआत में कांग्रेस बजट सत्र के पहले दिन पांच मार्च को अविश्वास प्रस्ताव को आगे बढ़ाना चाहती थी, लेकिन इसके अनुरोध को विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने ठुकरा दिया और उन्होंने इसके लिए 10 मार्च की तिथि तय की थी।

Advertisement. Scroll to continue reading.

बीजेपी के पास 40 सीटें

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा था, ‘‘अविश्वास प्रस्ताव से लोगों को पता चल जाएगा कि कौन सा विधायक सरकार के साथ खड़ा है और कौन सा विधायक किसानों के साथ खड़ा है।’’ हरियाणा विधानसभा में 90 सीटें हैं और वर्तमान में 88 सदस्य हैं। उनमें से बीजेपी के 40, जेजेपी के 10 और कांग्रेस के 30 सदस्य हैं। सात निर्दलियों में से पांच सरकार को समर्थन दे रहे हैं। इसके अलावा एक सदस्य हरियाणा लोकहित पार्टी का है और वह भी सरकार के समर्थन में है।

Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Advertisement
Advertisement

और खबरें पढ़ें

Advertisement