Delhi Pollution: एक हफ्ते तक स्कूल-ऑफिस बंद, होगा वर्क फ्रॉम होम और ऑनलाइन पढ़ाई, लग सकता है लॉकडाउन

Pollution: Schools closed for a week in Delhi :  सीएम केजरीवाल ने कहा कि ये हमारी सांसों और जिंदगी का सवाल है, इसको लेकर हम पूरी कोशिश कर रहे हैं।

 | 
delhi pollution
Delhi Pollution: Schools closed for a week in Delhi : राजधानी दिल्ली में प्रदूषण को लेकर सीएम केजरीवाल ने बड़ा फैसला लेते हुए एक हफ्ते तक सभी स्कूल-कॉलेजों और सभी ऑफिसों को बंद करने का आदेश दिया है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि वो प्रदूषण को रोकने के लिए लॉकडाउन पर विचार कर रहे हैं।

 

whatsapp gif

वहीं सरकारी दफ्तरों में एक हफ्ते तक वर्कफ्रॉम होम (government employees will work from home) रहेगा। वहीं प्राइवेट दफ्तरों को लेकर केजरीवाल ने कहा है कि जितना मुमकिन हो सके स्टाफ वर्क फ्रॉम होम पर भेजें। वहीं बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी। इसके साथ ही 17 नवंबर को निर्माण कार्य बंद रहेंगे। सीएम केजरीवाल ने कहा कि ये हमारी सांसों और जिंदगी का सवाल है, इसको लेकर हम पूरी कोशिश कर रहे हैं। केजरीवाल ने कहा कि प्राइवेट गाड़ियों को बंद करने पर विचार किया जाएगा। Read Also : UP Me Band Honge School: मेरठ समेत प्रदेश के इन जिलों में फिर बंद होंगे स्कूल! दो दिन में CPCB ले सकती है बड़ा फैसला

 

news shorts

सुप्रीम कोर्ट ने कहा था लॉकडाउन भी लगाना हो तो लगा दो

बता दें कि शनिवार सुबह ही सुप्रीम कोर्ट ने भी प्रदूषण को लेकर चिंता जताते हुए केंद्र व दिल्ली सरकार को फटकार लगाई थी। कोर्ट ने दोनों सरकारों से प्रदूषण को रोकने के लिए अभी तक उठाए गए कदमों की जानकारी भी मांगी थी। कोर्ट ने कहा था कि दिल्ली एनसीआर की हवा सांस लेने लायक नहीं है। यह आपातस्थिति है, हमें घरों में भी मास्क पहनना पड़ रहा है। छोटे बच्चों को इस हालत में स्कूल जाना पड़ रहा है। प्रदूषण से बच्चों के फेफड़े खराब हो सकते हैं। कोर्ट ने सरकार को कहा कि अगले 2 दिन में हालात ठीक करो, इसके लिए लॉकडाउन जैसी पाबंदियां लगानी पड़े तो वह भी करें, लेकिन प्रदूषण को नियंत्रित करें और इसे 500 से 200 से नीचे लाया जाए। 

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।