मेरठ: दोस्त की प्रेमिका को पाने के लिए कर दी उसकी हत्या, 6 महीने बाद पड़ोसन के सामने खोला राज तो हुआ गिरफ्तार

 मेरठ : प्रेमिका से दोस्त के अवैध संबंधों का नसीम को पता चल गया था, जिसके बाद उसने दानिश का घर आना जाना बंद करा दिया। इस वाकये के कुछ दिन बाद 16 मार्च को नसीम अचानक गायब हो गया था

 | 
meerut
 

उत्तप्रदेश के मेरठ में एक युवक ने अपने दोस्त की प्रेमिका से शादी करने के लिए उसकी हत्या कर दी। घटना का खुलासा 6 महीने बाद गढ़मुक्तेश्वर से आई एक महिला ने युवक के परिजनों के सामने किया। पुलिस ने हत्यारोपी दोस्त और उसकी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है।
 

जानकारी के मुताबिक किठौर थाना क्षेत्र की रहने वाला नसीम राजमिस्त्री का काम करता था। नसीम का किठौर के शाहजमाल की रहने वाली एक महिला हिना से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। नसीम हिना को लेकर गढ़ मुक्तेश्वर चला गया और वहीं किराए के मकान में रहने लगा था। यहां किठौर निवासी नसीम का दोस्त दानिश भी अक्सर आने जाने लगा था। इस दौरान हिना के दानिश से अवैध संबंध हो गए।

बताया जा रहा है कि प्रेमिका से दोस्त के अवैध संबंधों का नसीम को पता चल गया था, जिसके बाद उसने दानिश का घर आना जाना बंद करा दिया। इस वाकये के कुछ दिन बाद 16 मार्च को नसीम अचानक गायब हो गया था, 23 मार्च को परिजनों ने उसकी गुमशुदगी दर्ज की। काफी तलाश के बाद भी उसका कुछ पता नहीं चल सका था। उधर हिना ने दानिश से शादी कर ली और दोनों गढ़मुक्तेश्वर में ही रहने लगे।

नसीम को गुम हुए 6 माह बीत चुके थे, इसीलिए अब परिजनों ने उसके मिलने की आस छोड़ दी थी, लेकिन 2 दिन पहले गढ़ मुक्तेश्वर निवासी एक महिला नसीम के घर पहुंची और परिजनों को बताया कि उनके बेटे की हत्या हो चुकी है और हत्यारा नसीम का दोस्त दानिश ही है।

महिला ने बताया कि दानिश गढ़मुक्तेश्वर में उसके घर के पास ही रहता है और कुछ दिन पहले उसका दानिश से विवाद हो गया था। महिला के मुताबिक गुस्से में दानिश से कहा कि वह उसे वैसे ही जान से मार देगा जैसे नसीम को मारा था। मैं अब तक 16 हत्याएं कर चुका हूं। जिसके बाद घबराई महिला ने नसीम के घर आकर उन्हें इसकी जानकारी दी।

इस पर नसीम के परिजनों ने थाने पहुंचकर हिना और दानिश के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज करवाई। पुलिस ने दानिश और हिना को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पूछताछ में दानिश ने पुलिस को बताया कि हिना ने दानिश को रास्ते से हटाने के लिए कहा था, जिसके बाद उसने अपने एक दोस्त के साथ मिलकर नसीम की 16 मार्च को हत्या करके शव को अमरोहा जिले के धनोरा मंडी थाना क्षेत्र की नहर में फेंक दिया था।

पुलिस ने जब धनोरा मंडी थाने में संपर्क किया तो पता चला कि 18 मार्च को नहर से उन्हें एक शव मिला था, शिनाख्त न होने पर उसका लावारिस में अंतिम संस्कार कर दिया गया था। धनोरा पुलिस ने फोटों के आधार पर शिनाख्त कर बताया कि वह शव नसीम का ही था।

किठौर थाना प्रभारी निरीक्षक अरविंद मोहन शर्मा ने बताया कि नसीम की हत्या करने के लिए हिना ने दानिश को मजबूर किया था। जिसके बाद दानिश ने अपने किठौर निवासी दोस्त मुजीब के साथ मिलकर की थी। पुलिस ने दानिश और हिना को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। तथा अन्य आरोपी मुजीब को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।