बिजनौर : नेशनल खिलाड़ी की हत्या, परिजनों का आरोप मारने से पहले आरोपी ने दुष्कर्म भी किया

बबली की जींस का बटन खुला हुआ था। उसके कपड़े भी अस्त व्यस्त थे। उसके बैग की सारी फाइल और कागज़ भी बिखरे हुए थे। 

 | 
Bijnor

Kho-Kho National Player Murder In Bijnor : उत्तरप्रदेश के बिजनौर (Bijnor) में खो-खो की नेशनल महिला खिलाड़ी की गला घोंटकर हत्या कर दी गई। महिला खिलाड़ी का शव रेलवे स्टेशन के पास पड़ा मिला। बताया जा रहा है कि वह नौकरी के सिलसिले में घर से निकली थी। उधर युवती के परिजनों का आरोप है कि हत्या से पहले उसके साथ रेप भी किया गया है, हालांकि पुलिस अभी इस बारे में कुछ नहीं बोल रही है।

जानकारी के मुताबिक बिजनौर की कुटिया कालोनी की रहने वाली बबली (24) शुक्रवार सुबह नौकरी के सिलसिले में अपना बायोडाटा देने एक स्कूल में गई थी। जब काफी देर तक भी वह नहीं लौटी तो परिजनों ने उसके मोबाइल पर कॉल किया, लेकिन फोन स्विच ऑफ आया। कुछ देर बाद परिजनों को रेलवे स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक के पास बबली के मरणासन्न हालात में पड़े होने की सूचना मिली।

यह जगह बबली के घर से महज 30 मीटर की दूरी पर थी। परिजन और पुलिस ने मौके ओर जाकर देखा तो बबली वहां पड़ी तड़प रही थी, उसके गले मे दुपट्टा बंधा हुआ था और मुंह से खून आ रहा था। परिजन उसे फौरन अस्पताल लेकर गए, लेकिन डॉक्टर्स ने इसे डेथ बिफोर एराइवल बता दिया। सिविल पुलिस और जीआरपी मामले की जांच में जुटी हैं। सीओ सिटी कुलदीप गुप्ता ने बताया कि जांच की जा रही है।

बताया जा रहा है कि बबली की जींस का बटन खुला हुआ था। उसके कपड़े भी अस्त-व्यस्त थे। उसके बैग की सारी फाइल और कागज़ भी बिखरे हुए थे। परिजनों का आरपी है कि बबली के साथ हत्यारोपी ने दुष्कर्म किया है उसके बाद उसकी हत्या की गई है। माना जा रहा है कि बबली ने हत्यारे से संघर्ष किया है। घटना स्थल से एक खुला हुआ टिफिन भी मिला है।

कालेज में थी टीचर

बबली के परिजनों ने बताया कि वह खो-खो की नेशनल खिलाड़ी है और 2018 में  पुणे में नेशनल खेल चुकी थी। फिलहाल वह पौढ़ी गढ़वाल विश्वविद्यालय से बीपीएड कर रही थी। इसके साथ ही वह एक कॉलेज में पढ़ाती भी थी। परिजनों के मुताबिक बबली का रिश्ता तय हो चुका था और नवंबर में उसकी शादी थी, लेकिन शादी से 2 महीने पहले किसी ने उसकी हत्या कर दी।


 

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।