योगी पर अखिलेश का वार: कहा- उत्तराखंड से बाबा का पलायन न होता तो यूपी के 5 साल खराब नहीं होते

 उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव गुरुवार को मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना में आयोजित कश्यप सम्मेलन में पहुंचे।

 | 
akhilesh
UP Assembly Election 2022: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh yadav) गुरुवार को मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना में आयोजित कश्यप सम्मेलन (Akhilesh yadav in Muzaffarnagar) में पहुंचे। यहां अखिलेश ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) प्रदेश से पलायन की बात करते हैं, लेकिन मैं कहता हूं कि अगर योगी आदित्यनाथ का उत्तराखंड से पलायन न होता तो हमारे पांच साल खराब नहीं होते। अखिलेश ने कहा कि प्रदेश में विकास के नाम पर सिर्फ रंग बदल जा रहे है। समाजवादियों के विकास कार्यों का शिलान्यास पर शिलान्यास किया जा रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग पिछड़ों की गिनती नही कर सकते वो आपके लिए विकास क्या कर सकती है।

 

योगी आदित्यनाथ पर साधा निशाना (Akhilesh yadav in Budhana, Muzaffarnagar)

Akhilesh yadav in Budhana, Muzaffarnagar: अखिलेश ने यूपी सरकार की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ को निशाना बनाया और कहा कि, सीएम कहते रहते हैं कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति अच्छी है, लेकिन यूपी में कई घटनाएं ऐसी है जिनके लिए भाजपा सरकार दोषी है। कानपुर और गोरखपुर में पुलिस ने कारोबारियों की हत्या कर दी। ऐसी तमाम घटनाएं हैं जिनके उदाहरण मैं दे सकता हूं और बता सकता हूं कि कैसे भाजपा सरकार के तहत निर्दाेष लोग मारे गए। हिरासत में मौत के मामले में उत्तर प्रदेश की पुलिस अव्वल है। यहां की पुलिस कभी भी किसी को भी मार देती है। Read Also : मेरठ पहुंचे सीएम योगी, कहा- यहां बन रहा खेल विश्वविद्यालय देशभर के खिलाड़ियों के लिए नई दिशा तय करेगा

 

मानवाधिकार हनन सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में है

अखिलेश ने कहा कि नेशनल ह्यूमन राइट्स कमीशन का डाटा मुख्यमंत्री देख लें। सबसे ज्यादा प्रताड़ना उत्तर प्रदेश में है। मानवाधिकार हनन सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में है। पुलिस को मजबूत किया समाजवादी ने। सबसे ज्यादा प्रमोशन सपा सरकार में हुए है। 100 नम्बर की सुविधा समाजवादी पार्टी ने दी। आप गाड़ियों के टायर नहीं बदलवा पाए। संख्या नहीं बढ़ पाए। बस 100 नम्बर को 112 कर दिया। हमें इस ठोको नीति वाली सरकार को बदलने की जरूरत है। ead Also : UP: वकीलों को 1.5 से 5 लाख रुपये तक देगी योगी सरकार, जानें किसे मिलेगा लाभ

 

कश्यप सम्मेलन के मंच से अखिलेश यादव ने कहा कि आपका उत्साह बता रहा है कि आने वाले समय मे उत्तर प्रदेश की सरकार बदलने का फैसला जनता ने ले लिया है। उन्होंने कहा कि इस बार किसानों और गरीबों ने तय कर लिया है कि भाजपा का सफाया करके रहेंगे। किसानों का इस बार इंकलाब होगा और 22 में बदलाव होगा। Read Also : UP: अब विवाहित बेटियों को भी मृतक आश्रित कोटे पर मिलेगी सरकारी नौकरी, योगी सरकार का बड़ा फैसला

 

अखिलेश ने कहा कि मुजफ्फरनगर के लोगों ने कभी समाजवादी पार्टी को निराश नहीं किया है। सपा के साथ सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुखिया ओमप्रकाश राजभर जब से आये हैं हमें काफी मजबूती मिली है। राजभर के हमारे साथ आने के बाद भाजपा के लिए हर तरफ से दरवाजे बंद हो गए। आज का सम्मेलन इतना बड़ा है कि भाजपा के दरवाजे यहां से भी बंद करेंगे। Read Also : UP : अब Free Laptop प्लम्बर, कारपेंटर, नर्स और इलेक्ट्रीशियन समेत इन लोगों को भी मिलेगा, जानिए कैस कर सकेंगे आवेदन

 

सपा कई पार्टियों से गठबंधन करेगी

अखिलेश यादव ने कहा कि अभी समाजवादी पार्टी का गठबंधन होने जा रहा है। सपा सभी वर्गों सभी दलों को जोडऩे का काम कर रही है। दूसरे दलों की सरकार ने सपने दिखाकर आपका वोट लिया। सरकार में आने के बाद आपके हक को छीना है। आपके नेताओं को मुख्यमंत्री बनाने का वादा किया गया, लेकिन झूठ के अलावा आपको कुछ नहीं मिला। अगर अब यह सरकार में आए तो आपसे सब कुछ छीन लेंगे। भाजपा के लोगों ने कहा कि किसानों की आय दोगुनी कर देंगे। किसान भाइयों बताओ आय दोगुनी हुई। आय तो बढ़ी नहीं महंगाई जरूर बढ़ गई। वादा किया था कि हवाई चप्पल वाले हवाई जहाज में चलेंगे। लेकिन, पेट्रोल डीजल के इतने दाम बढ़ाए कि मोटरसाइकिल पर चलना भारी हो गया।

 

किसी को नौकरी नहीं मिली

अखिलेश यादव ने कहा कि यह तीन काले कानून आपके खेतों पर पूंजीपतियों के कब्जा करा देंगे। हम किसानों के साथ है। तीनों कृषि कानूनों का विरोध करते रहेंगे। किसानों के साथ नौजवानों के सामने भी संकट खड़ा है। न रोजगार है और न ही खाने-कमाने के साधन। हमें लगा कि बाबा मुख्यमंत्री इसलिए लैपटॉप नहीं बांट रहे क्योंकि वह चलाना नहीं जानते। नौजवानों को 70 लाख नौकरी देने का वादा घोषणा पत्र में किया था। किसी को नौकरी नहीं मिली। जब बाबा मुख्यमंत्री से पूछा गया कि कहां है नौकरी, तो मुख्यमंत्री कहते हैं कि हमारे पास नौकरी तो बहुत हैं लेकिन हमारे युवाओं में टेलेंट नहीं है।

 

Read Also

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।